Today Visitor :
Total Visitor :


फीफा वर्ल्ड कप 2018-तोते की भविष्यवाणी- जापान नहीं जीत पाएगा अपना पहला मुकाबला      |      पापा के साथ मजबूती से खड़ी रहती हूं : दीपिका पादुकोण      |      ट्रेन हुई लेट तो यात्रियों के लिए फ्री खाने-पीने की व्यवस्था करेगा रेलवे      |      पंजाब की एलिजा बंसल ने किया टॉप      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान केन्द्रीय वित्त मंत्री श्री पीयूष गोयल से मिले      |      पसीने की बदबू से हैं परेशान तो इन घरेलू तरीकों      |      राज्यपाल श्रीमती पटेल पहुँची टिमरनी आँगनवाड़ी केन्द्र; बच्चों से की बातचीत      |      सार्बिया ने कोस्‍टा रिका को 1-0 से हराया      |      गाड़ी से कूड़ा फेंकने वाले शख्स ने माफी मांगते हुए कहा- अनुष्का थोड़ी तहजीब सीख लो      |      नीति आयोग की बैठक में राज्यों ने रखी मांग      |      Father's Day पर गूगल ने बनाया डूडल      |      आइसलैंड के गोलकीपर ने नहीं चलने दिया मेसी का जादू      |      'पलटन' में दिखेंगी दीपिका      |      प्रधानमंत्री ने आरएसएस, बीजेपी पदाधिकारियों के रात्रिभोज की मेजबानी की      |      दिल्ली वालों को आज होने वाली बारिश से मिल सकती है राहत      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ईदगाह पहुँच कर दी ईद की शुभकामनाएँ      |      रूस के खिलाफ मिली हार के बाद मुश्किल में सऊदी अरब      |      आज रिलीज हुई फिल्म 'रेस 3'       |      CIA ने वीएचपी, बजरंग दल को बताया 'धार्मिक आतंकी संगठन'      |      कल देशभर में मनाई जाएगी ईद      |      गाँव, गरीब और किसान की बेहतरी में नियम-कानून बाधक नहीं होंगे : मुख्यमंत्री      |      फीफा वर्ल्ड कप 2018 रूस ने किया दूसरा गोल      |      राज ठाकरे का मुंबईकरों को बर्थडे ऑफर      |      संजीव श्रीवास्तव ने सलमान खान के शो 'दस का दम' में दिखाया अपना किलर स्टेप      |      केला उत्पादक किसानों को देय मुआवजा राशि में होगी साढ़े सात गुना वृद्धि      |      बारिश से असम, त्रिपुरा-मणिपुर में आई भारी बाढ़      |      विश्वकप फुटबाल -स्पेन के कोच लोपेतेगुई की छुट्टी      |      'बदला' की शूटिंग तापसी पन्नू ने शुरू की      |      पूर्व पीएम वाजपेयी की सेहत में लगातार सुधार      |      ताज होटल में आज कांग्रेस ने इफ्तार पार्टी दी      |      

आनंद की बात

गर्मियों के मौसम में पसीना आना एक आम समस्या है। मगर कुछ लोगों की पसीने की स्मैल इतनी गंदी होती है। उसके पास बैठना भी मुश्किल हो जाता है। इस समस्या के कारण कई बा
आगे पढ़ेंअन्य विविध समाचार
गलत खान-पान के कारण लोगों की हेल्थ प्रॉब्लम्स भी बढ़ती जा रही है। जिसके कारण लोगों को हर तीसरे दिन अस्पतालों में चक्कर निकालने पड़ रहे हैं। ऐसे में आज हम आपको एक ऐसे पौधे के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे इस्तेमाल करके आप घर पर कई समस्याओं से छुटकारा ...
आगे पढ़ें
गर्मी के तपते मौसम में खुद का ख्याल रखना बहुत जरूरी है। खान-पान में जरा-सी गड़बड़ी होने पर सेहत से संबंधित बहुत-सी परेशानियां होने लगती हैं। इस मौसम में लोगों को सबसे ज्यादा जिस समस्या का सामना करना पड़ता है, वह है शरीर में गर्मी पड़ना। शरीर यानि पेट...
आगे पढ़ें
गरज-चमक के साथ कई हिस्सों में बारिश, पड़ सकते हैं ओले, किसानों की चिंता बढ़ीBookmark and Share

 जोरदार गरज चमक के साथ बुधवार देर रात भोपाल समेत प्रदेश के कई जिलों में बारिश हुई। इससे तापमान में अचानक गिरावट आ गई। रात को भी रुक-रुककर बूंदाबांदी होती रही। ऐसे में गुरुवार को सुबह से मौसम का मिजाज बदला रहा। शहर के कुछ क्षेत्रों में बिजली गिरने की खबरें भी आ रही हैं। बूंदाबांदी से 20 दिन बाद भोपाल के तापमान में 1.8 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई।

 

 

-मौसम में आए इस बदलाव ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। इससे किसानों की खड़ी फसल को नुकसान होने की पूरी संभावना बन गई है। गत माह हुई बेमौसम बारिश ने किसानों की कमर तोड़ दी थी। मप्र के कई जिलों में बारिश और ओले के चलते फसल पूरी तरह से खराब हो गई थी। इसमें छतरपुर, पन्ना, बैतूल, जबलपुर, खंडवा, सागर, विदिशा, सीहोर आदि जिलों में किसानों को काफी नुकसान हुआ था।

-वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक एसके नायक ने बताया कि अगले 24 घंटे में भोपाल, इंदौर, होशंगाबाद और उज्जैन संभागों में कहीं- कहीं बारिश होने और ओले गिरने के आसार हैं। टीकमगढ़, छतरपुर, सागर, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा जिलों में भी कहीं- कहीं बादल गरजने और बारिश होने का अनुमान है।

अचानक हुई बारिश से फसलों को नुकसान

-मौसम में अचानक हुए बदलाव ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। इस बारिश से चना औऱ गेहूं की फसल को भारी नुकसान हो सकता है। अगर मौसम इसी तरह रहा है किसानों को बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है। हालांकि मौसम विभाग ने किसानों को दो दिन पहले ही सावधान रहने को कहा था। अगले चौबीस घंटों में फिर तेज बारिश और ओले गिरने के आसार बन रहे है जो फसलों को काफी नुकसान पहुंचा सकते है। पिछले माह हुई बेमौसम बारिश व ओले गिरने से किसानों को भारी नुकसान हुआ था। कई जिलों में बारिश और ओले से फसल चौपट हो गई थी।

ये है मौसम बदलने की वजह 
-मौसम में बदलाव की वजह उत्तर से आ रही सूखी हवा और दक्षिण से आ रही नम हवा मप्र में आकर आपस में मिल रही हैं। बुधवार रात आठ बजे के बाद एकदम मौसम बदला और बादल गरजे। रात नौ से साढ़े नौ बजे तक बूंदाबांदी हुई। दिन का तापमान 30.8 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 1 डिग्री कम रहा। इससे पहले 15 फरवरी को दिन का तापमान सामान्य से 1 डिग्री कम था।
40 मिनट पहले हो गई थी शाम
-घने बादल छाने का असर शाम के ढलने पर भी हुआ। बुधवार को शाम सूर्यास्त से करीब 40 मिनट पहले 5.50 बजे ही ऐसा अंधियारा घने लगा था। सड़कों से गुजर रहे वाहनों के हेड लाइट जलने लगे थे। 
मौसम में बदलाव की एक बड़ी वजह यह भी 
वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक एके शुक्ला ने बताया कि जमीन से 4 किमी ऊपर आसमान में 120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार वाली तेज हवा चल रही थी। मौसम में बदलाव की एक बड़ी वजह यह भी है।


पाठको की राय
1
आपकी राय
Name
Email
Description