Today Visitor :
Total Visitor :


विराट कोहली और मीराबाई चानू को मिला खेल रत्न      |      वैस्टर्न पसंद हैं तो प्रियंका की ड्रेसेज से लें आइडियाज      |      सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी बरसी पर ‘पराक्रम पर्व’      |      दागी सांसदों पर SC का बड़ा फैसला      |      प्रधानमंत्री श्री मोदी का भोपाल विमान तल पर आत्मीय स्वागत      |      रोहित- शिखर ने तोड़ा वनडे में सहवाग और सचिन का सबसे पुराना रिकॉर्ड      |      'तारक मेहता का उलटा चश्मा' में होगी 'दयाबेन' की वापसी, फीस में भी हुई बढ़ोतरी      |       प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की पहली लाभार्थी बनी पूनम महतो,      |      भोपाल-इन्दौर मेट्रो रेल परियोजना के लिये 405 पद के सृजन की मंजूरी      |      ब्लूव्हेल के बाद मोमो गेम बना जानलेवा, CBSE ने सर्कुलर जारी कर स्कूलों को चेताया      |      आयुष्मान भारत एक नयी क्रांति- मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रेमपुरा घाट पर किया भगवान श्रीगणेश प्रतिमा का विसर्जन      |      पर्रिकर बने रहेंगे मुख्यमंत्री, कैबिनेट में बदलाव का ऐलान जल्द: अमित शाह      |      लगता है ओलांद का बयान राहुल को पहले से पता था, इसमें कुछ जुगलबंदी है: जेटली      |      पाक फैन ने गाया भारतीय राष्ट्रगान, कहा- शांति की ओर एक प्रयास      |      शूटिंग छोड़ मुम्बई पहुंचे रनबीर, आरके स्टूडियो की आखिरी गणेश पूजा में हुए शामिल      |      सिंधू और श्रीकांत की हार के साथ भारतीय चुनौती समाप्त      |      सिंपल या हैवी, चूज करें परफैक्ट नथ       |      छत्तीसगढ़ में शाह का दावा, तीनों राज्यों में बनेगी भाजपा सरकार      |      राफेल पर सरकार के झूठ का पर्दाफाश : कांग्रेस      |      जुन्नारदेव, परासिया में चालू की जायेंगी 6 नई खदानें : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      ऐसे 2 भारतीय गेंदबाज जिन्होंने ODI में अपनी पहली ही गेंद पर लिया विकेट      |      किम से कम नहीं अनूप की गर्लफ्रैंड जसलीन      |       जेट एयरवेज मामला: 5 यात्रियों को सुनाई देने में दिक्कत      |      ओडिशा में उवर्रक संयंत्र, हवाई अड्डे का उद्घाटन करेंगे PM      |      धान के समर्थन मूल्य पर इस वर्ष भी दिया जायेगा बोनस : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने श्रीलंका को 13 रनों से हरा दिया      |      शॉर्ट ड्रैसिज पहनने की शौकीन है तो आलिया से लीजिए Ideas      |      राहुल गांधी का पीएम मोदी पर हमला      |      जरूरतमंदों को समय पर मिले सरकारी योजनाओं का लाभ : राज्यपाल      |      

आनंद की बात

गणेश चतुर्थी आने वाली है। गणेश चतुर्थी पर मीठा बनाने की सोच रही हैं तो इस बार आप बप्पा को भोग लगाने के लिए गुड़ और नारियल से घर में ही मोदक तैयार कर सकती हैं। य
आगे पढ़ेंअन्य विविध समाचार
अगर कुछ ऐसा है, जिसके बिना भारतीय लड़कियों का मेकअप कंपलीट नहीं होता तो वह है काजल। इसके बिना लड़कियों का अपना मेकअप अधूरा लगता है। काजल आंखों की खूबसूरती तो बढ़ाने के साथ उसे अट्रैक्टिव भी दिखाता है। ऐसा में भला कोई लड़की काजल अप्लाई क्यों न करें ले ...
आगे पढ़ें
अंजीर मल्‍बेरी फैमिली का एक लोकप्रिय मौसमी फल है। अंजीर में बहुत से गुण पाए जाते हैं । भारत में इसे सूखे और ताजे दोनों तरह इस्तेमाल किया जाता है। अंजीर बैंगनी, हरे और अन्य कई रंगों में पाया जाता है।...
आगे पढ़ें
गरज-चमक के साथ कई हिस्सों में बारिश, पड़ सकते हैं ओले, किसानों की चिंता बढ़ीBookmark and Share

 जोरदार गरज चमक के साथ बुधवार देर रात भोपाल समेत प्रदेश के कई जिलों में बारिश हुई। इससे तापमान में अचानक गिरावट आ गई। रात को भी रुक-रुककर बूंदाबांदी होती रही। ऐसे में गुरुवार को सुबह से मौसम का मिजाज बदला रहा। शहर के कुछ क्षेत्रों में बिजली गिरने की खबरें भी आ रही हैं। बूंदाबांदी से 20 दिन बाद भोपाल के तापमान में 1.8 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई।

 

 

-मौसम में आए इस बदलाव ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। इससे किसानों की खड़ी फसल को नुकसान होने की पूरी संभावना बन गई है। गत माह हुई बेमौसम बारिश ने किसानों की कमर तोड़ दी थी। मप्र के कई जिलों में बारिश और ओले के चलते फसल पूरी तरह से खराब हो गई थी। इसमें छतरपुर, पन्ना, बैतूल, जबलपुर, खंडवा, सागर, विदिशा, सीहोर आदि जिलों में किसानों को काफी नुकसान हुआ था।

-वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक एसके नायक ने बताया कि अगले 24 घंटे में भोपाल, इंदौर, होशंगाबाद और उज्जैन संभागों में कहीं- कहीं बारिश होने और ओले गिरने के आसार हैं। टीकमगढ़, छतरपुर, सागर, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा जिलों में भी कहीं- कहीं बादल गरजने और बारिश होने का अनुमान है।

अचानक हुई बारिश से फसलों को नुकसान

-मौसम में अचानक हुए बदलाव ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। इस बारिश से चना औऱ गेहूं की फसल को भारी नुकसान हो सकता है। अगर मौसम इसी तरह रहा है किसानों को बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है। हालांकि मौसम विभाग ने किसानों को दो दिन पहले ही सावधान रहने को कहा था। अगले चौबीस घंटों में फिर तेज बारिश और ओले गिरने के आसार बन रहे है जो फसलों को काफी नुकसान पहुंचा सकते है। पिछले माह हुई बेमौसम बारिश व ओले गिरने से किसानों को भारी नुकसान हुआ था। कई जिलों में बारिश और ओले से फसल चौपट हो गई थी।

ये है मौसम बदलने की वजह 
-मौसम में बदलाव की वजह उत्तर से आ रही सूखी हवा और दक्षिण से आ रही नम हवा मप्र में आकर आपस में मिल रही हैं। बुधवार रात आठ बजे के बाद एकदम मौसम बदला और बादल गरजे। रात नौ से साढ़े नौ बजे तक बूंदाबांदी हुई। दिन का तापमान 30.8 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 1 डिग्री कम रहा। इससे पहले 15 फरवरी को दिन का तापमान सामान्य से 1 डिग्री कम था।
40 मिनट पहले हो गई थी शाम
-घने बादल छाने का असर शाम के ढलने पर भी हुआ। बुधवार को शाम सूर्यास्त से करीब 40 मिनट पहले 5.50 बजे ही ऐसा अंधियारा घने लगा था। सड़कों से गुजर रहे वाहनों के हेड लाइट जलने लगे थे। 
मौसम में बदलाव की एक बड़ी वजह यह भी 
वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक एके शुक्ला ने बताया कि जमीन से 4 किमी ऊपर आसमान में 120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार वाली तेज हवा चल रही थी। मौसम में बदलाव की एक बड़ी वजह यह भी है।


पाठको की राय
1
आपकी राय
Name
Email
Description