Put your alternate content here
Today Visitor :
Total Visitor :


टेलर तीनों फॉर्मेट में 100-100 मैच खेलने वाले पहले खिलाड़ी      |       टैबू सब्जेक्ट पर संदेश देने में सफल साबित होती है 'शुभ मंगल ज्यादा सावधान'      |      प्रधानमंत्री मोदी से मिले मुख्यमंत्री ठाकरे, कहा- सीएए और एनआरसी के मुद्दे पर हमारी कांग्रेस से बातचीत जारी      |      वेजिटेरियन डाइट अपनाकर बनीं देश की नामचीन फिटनेस ट्रेनर      |      / अमेरिकी डेलिगेशन में इवांका भी रहेंगी      |      दिल्ली क्राइम सीजन 2' में असली आईएएस अधिकारी अभिषेक सिंह निभाएंगे ऑफिसर की भूमिका      |       पीएम मोदी ने लिट्‌टी-चोखा का स्वाद चखा      |       एयर इंडिया की शंघाई और हॉन्गकॉन्ग के लिए उड़ानें 30 जून तक रद्द      |      मनमोहन बोले- मोदी सरकार स्लोडाउन स्वीकार नहीं करती      |      सानिया-गार्सिया की जोड़ी दुबई ओपन के प्री-क्वार्टर फाइनल       |      50 करोड़ रुपए कमाने वाली साल की तीसरी फिल्म बनी ‘मलंग’      |      श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की पहली बैठक आज      |      फोर्स ने पेश की नई गुरखा और गुरखा कस्टमाइज      |       राष्ट्रपति ट्रम्प बोले- भारत का बर्ताव हमारे साथ अच्छा नहीं      |      चीन में दवा फैक्ट्रियां बंद होने की वजह से भारत में पैरासिटामॉल की कीमतों में 40% बढ़ोतरी      |       वनडे और टी-20 का चैम्पियंस कप शुरू होगा      |      नेहा कक्कड़ से ब्रेकअप के 14 महीने बाद हिमांश ने तोड़ी चुप्पी      |      जीडीपी / भारत दुनिया का 5वीं बड़ी अर्थव्यवस्था वाला देश बना, दो पायदान चढ़कर ब्रिटेन और फ्रांस को पीछे छोड़ा      |      भारत के सुनील कुमार ने 27 साल बाद ग्रीको रोमन में गोल्ड जीता      |      23 दिन कोमा में रहीं, हाेश में आईं तो पति चेहरा देखकर डर गए      |       शमी 3 और बुमराह 2 विकेट लेकर फॉर्म में लौटे      |      आज आधी रात को खत्म हो जाएगा 'बिग बॉस 13' का सफर      |      ट्रम्प ने फेसबुक पर खुद को नंबर 1 और मोदी को नंबर 2 बताया, लेकिन हकीकत में उनके प्रधानमंत्री से आधे फॉलोअर्स      |      राज्यपाल द्वारा पद्मश्री बशीर बद्र को जन्म-दिन की शुभकामनाएँ      |       एयरपोर्ट से उड़ान भरने जा रहे एयर इंडिया के विमान के सामने जीप आई      |      उदित नारायण बोले, 'इंडियन आइडल 11 की टीआरपी बढ़ाने के लिए हो रहा नाटक      |       केजरीवाल को जीत दिलाने वाली रणनीति का पहली बार खुलासा      |      मेरा स्वप्न है कि हर व्यक्ति को घर पर मिले शुद्ध जल : मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ पानी की उपलब्धता समाज और सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनौती मुख्यमंत्री द्वारा राइट टू वाटर विषयक राष्ट्रीय जल सम्मेलन का शुभारंभ      |      युवाओं को विश्व-स्तरीय निजी सुरक्षा ट्रेनिंग देने स्थापित होंगे सेंटर ऑफ एक्सीलेंस संस्थान      |      केंद्र की याचिका पर निर्भया के दोषियों को नोटिस      |      

आनंद की बात

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 10वीं और 12वीं के लिए टेली काउंसलिंग 1 फरवरी से शुरू होगी।
आगे पढ़ेंअन्य विविध समाचार
Realme X50 5G चीन में लॉन्च करने के बाद अब कंपनी भारत में Realme 5i लॉन्च कर दिया है। एक स्पेशल इवेंट में धमाका करते हुए Realme ने इस स्मार्टफोन को महज 8,999 रुपए के प्राइज टैग कै साथ ...
आगे पढ़ें
सरकारी गेहूं की बिक्री में इसके भाव घटने की आशंका से कमी रही। लेवाल सतर्क होने से इस बार कुल 25 लाख क्विंटल के कोटे में से 4 लाख क्विंटल माल ही बिक पाया है।...
आगे पढ़ें
स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने किया देश को संबोधित, तीन तलाक-370 का किया जिक्रBookmark and Share

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 73वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर देश को संबोधित किया। उन्होंने 73वें स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी और कहा, '73वें स्वाधीनता दिवस की पूर्व संध्या पर आप सभी को मेरी हार्दिक बधाई! यह स्वाधीनता दिवस भारत-माता की सभी संतानों के लिए बेहद खुशी का दिन है, चाहे वे देश में हों या विदेश में। 'राष्ट्रपति ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से 370 हटने से विकास होगा। इससे लोगों को फायदा होगा और बेटियों के साथ न्याय होगा। उन्होंने कहा कि तीन तलाक को समाप्त कर हमारी बेटियों के साथ न्याय किया गया है। 

भारत युवाओं का देश है। हमारे युवाओं की ऊर्जा खेल से लेकर विज्ञान तक और ज्ञान की खोज से लेकर सॉफ्ट स्किल तक कई क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा बिखेर रही है। हमारे स्वतंत्रता आंदोलन को स्वर देने वाले महान कवि सुब्रह्मण्य भारती ने 100 वर्ष से भी पहले भावी भारत की जो कल्पना की थी वह हमारे प्रयासों में साकार होती दिखाई देती है।

हर घर में शौचालय और पानी उपलब्ध कराने का पूरा लाभ तभी मिलेगा जब इन सुविधाओं से, हमारी बहन-बेटियों का सशक्तीकरण हो और उनकी गरिमा बढ़े। समाज और राष्ट्र के विकास के लिए बनाए गए इंफ्रास्ट्रक्चर का सदुपयोग करना और उसकी रक्षा करना, हम सभी का कर्तव्य है। सभी व्यक्तियों के साथ हमें वैसा ही सम्मान-जनक व्यवहार करना चाहिए जैसा हम उनसे अपने लिए चाहते हैं। भारत का समाज तो हमेशा से सहज और सरल रहा है, तथा जियो और जीने दो के सिद्धांत पर चलता रहा है। हम भाषा, पंथ और क्षेत्र की सीमाओं से ऊपर उठकर एक दूसरे का सम्मान करते रहे हैं। हजारों वर्षों के इतिहास में, भारतीय समाज ने शायद ही कभी दुर्भावना या पूर्वाग्रह से ग्रस्त होकर काम किया हो।

सरकार लोगों की आशाओं-आकांक्षाओं को पूरा करने में उनकी सहायता के लिए बेहतर बुनियादी सुविधाएं और सामर्थ्य उन्हें उपलब्ध करा रही है। देशवासियों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए, सरकार अनेक बुनियादी सुविधाएं प्रदान कर रही है।

मुझे विश्वास है कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में किए गए हालिया बदलावों से उन क्षेत्रों को काफी लाभ होगा। वे देश के बाकी हिस्सों में अपने साथी नागरिकों के समान अधिकारों, समान विशेषाधिकारों और समान सुविधाओं का उपयोग और आनंद ले सकेंगे।

मुझे इस बात की प्रसन्नता है कि संसद के हाल ही में संपन्न हुए सत्र में लोकसभा और राज्यसभा, दोनों ही सदनों की बैठकें बहुत सफल रही हैं।

इसी वर्ष गर्मियों में, आप सभी देशवासियों ने 17वें आम चुनाव में भाग लेकर विश्व की सबसे बड़ी लोकतांत्रिक प्रक्रिया को सम्पन्न किया है। इस उपलब्धि के लिए, सभी मतदाता बधाई के पात्र हैं। यह हम सभी की जिम्मेदारी है कि अपने गौरवशाली देश को नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए जोश के साथ, कंधे से कंधा मिलाकर काम करें।

2019 का यह साल, गुरु नानक देवजी का 550वां जयंती वर्ष भी है। वे भारत के सबसे महान संतों में से एक हैं। गुरु नानक देवजी के सभी अनुयायियों को मैं इस पावन जयंती वर्ष के लिए अपनी हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं।

गांधीजी का मार्गदर्शन आज भी उतना ही प्रासंगिक है। उन्होंने हमारी आज की गंभीर चुनौतियों का अनुमान पहले ही कर लिया था। गांधीजी मानते थे कि हमें प्रकृति के संसाधनों का उपयोग विवेक के साथ करना चाहिए ताकि विकास और प्रकृति का संतुलन हमेशा बना रहे। वर्तमान में चल रहे हमारे अनेक प्रयास गांधीजी के विचारों को ही यथार्थ रूप देते हैं। अनेक कल्याणकारी कार्यक्रमों के माध्यम से हमारे देशवासियों का जीवन बेहतर बनाया जा रहा है। सौर ऊर्जा के उपयोग को बढ़ाने पर विशेष ज़ोर देना भी गांधीजी की सोच के अनुरूप है।

हम अपने उन असंख्य स्वतंत्रता सेनानियों और क्रांतिकारियों को कृतज्ञता के साथ याद करते हैं, जिन्होंने हमें आजादी दिलाने के लिए संघर्ष, त्या‍ग और बलिदान के महान आदर्श प्रस्तुत किए। 2 अक्टूबर को हम राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाएंगे। गांधीजी, हमारे स्वतंत्रता संग्राम के महानायक थे। वे समाज को हर प्रकार के अन्याय से मुक्त कराने के प्रयासों में हमारे मार्गदर्शक भी थे।

73वें स्वाधीनता दिवस की पूर्व संध्या पर आप सभी को मेरी हार्दिक बधाई! 


पाठको की राय
1
आपकी राय
Name
Email
Description