Put your alternate content here
Today Visitor :
Total Visitor :


टेलर तीनों फॉर्मेट में 100-100 मैच खेलने वाले पहले खिलाड़ी      |       टैबू सब्जेक्ट पर संदेश देने में सफल साबित होती है 'शुभ मंगल ज्यादा सावधान'      |      प्रधानमंत्री मोदी से मिले मुख्यमंत्री ठाकरे, कहा- सीएए और एनआरसी के मुद्दे पर हमारी कांग्रेस से बातचीत जारी      |      वेजिटेरियन डाइट अपनाकर बनीं देश की नामचीन फिटनेस ट्रेनर      |      / अमेरिकी डेलिगेशन में इवांका भी रहेंगी      |      दिल्ली क्राइम सीजन 2' में असली आईएएस अधिकारी अभिषेक सिंह निभाएंगे ऑफिसर की भूमिका      |       पीएम मोदी ने लिट्‌टी-चोखा का स्वाद चखा      |       एयर इंडिया की शंघाई और हॉन्गकॉन्ग के लिए उड़ानें 30 जून तक रद्द      |      मनमोहन बोले- मोदी सरकार स्लोडाउन स्वीकार नहीं करती      |      सानिया-गार्सिया की जोड़ी दुबई ओपन के प्री-क्वार्टर फाइनल       |      50 करोड़ रुपए कमाने वाली साल की तीसरी फिल्म बनी ‘मलंग’      |      श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की पहली बैठक आज      |      फोर्स ने पेश की नई गुरखा और गुरखा कस्टमाइज      |       राष्ट्रपति ट्रम्प बोले- भारत का बर्ताव हमारे साथ अच्छा नहीं      |      चीन में दवा फैक्ट्रियां बंद होने की वजह से भारत में पैरासिटामॉल की कीमतों में 40% बढ़ोतरी      |       वनडे और टी-20 का चैम्पियंस कप शुरू होगा      |      नेहा कक्कड़ से ब्रेकअप के 14 महीने बाद हिमांश ने तोड़ी चुप्पी      |      जीडीपी / भारत दुनिया का 5वीं बड़ी अर्थव्यवस्था वाला देश बना, दो पायदान चढ़कर ब्रिटेन और फ्रांस को पीछे छोड़ा      |      भारत के सुनील कुमार ने 27 साल बाद ग्रीको रोमन में गोल्ड जीता      |      23 दिन कोमा में रहीं, हाेश में आईं तो पति चेहरा देखकर डर गए      |       शमी 3 और बुमराह 2 विकेट लेकर फॉर्म में लौटे      |      आज आधी रात को खत्म हो जाएगा 'बिग बॉस 13' का सफर      |      ट्रम्प ने फेसबुक पर खुद को नंबर 1 और मोदी को नंबर 2 बताया, लेकिन हकीकत में उनके प्रधानमंत्री से आधे फॉलोअर्स      |      राज्यपाल द्वारा पद्मश्री बशीर बद्र को जन्म-दिन की शुभकामनाएँ      |       एयरपोर्ट से उड़ान भरने जा रहे एयर इंडिया के विमान के सामने जीप आई      |      उदित नारायण बोले, 'इंडियन आइडल 11 की टीआरपी बढ़ाने के लिए हो रहा नाटक      |       केजरीवाल को जीत दिलाने वाली रणनीति का पहली बार खुलासा      |      मेरा स्वप्न है कि हर व्यक्ति को घर पर मिले शुद्ध जल : मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ पानी की उपलब्धता समाज और सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनौती मुख्यमंत्री द्वारा राइट टू वाटर विषयक राष्ट्रीय जल सम्मेलन का शुभारंभ      |      युवाओं को विश्व-स्तरीय निजी सुरक्षा ट्रेनिंग देने स्थापित होंगे सेंटर ऑफ एक्सीलेंस संस्थान      |      केंद्र की याचिका पर निर्भया के दोषियों को नोटिस      |      

आनंद की बात

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 10वीं और 12वीं के लिए टेली काउंसलिंग 1 फरवरी से शुरू होगी।
आगे पढ़ेंअन्य विविध समाचार
Realme X50 5G चीन में लॉन्च करने के बाद अब कंपनी भारत में Realme 5i लॉन्च कर दिया है। एक स्पेशल इवेंट में धमाका करते हुए Realme ने इस स्मार्टफोन को महज 8,999 रुपए के प्राइज टैग कै साथ ...
आगे पढ़ें
सरकारी गेहूं की बिक्री में इसके भाव घटने की आशंका से कमी रही। लेवाल सतर्क होने से इस बार कुल 25 लाख क्विंटल के कोटे में से 4 लाख क्विंटल माल ही बिक पाया है।...
आगे पढ़ें
राजभवन में बनाया जाएगा सब्जी की लाभकारी खेती का प्रदर्शन केन्द्र Bookmark and Share

 राज्यपाल श्री लालजी टंडन राजभवन में लाभकारी खेती के व्यवहारिक मॉडल तैयार करवा रहे हैं। राजभवन में शीघ्र ही सब्जी उत्पादन की आधुनिक तकनीक का प्रदर्शन केन्द्र बनाया जाएगा। आधुनिक उद्यानिकी और खेती का व्यवहारिक उदाहरण प्रस्तुत करने के लिए राजभवन में हाईटेक पॉली हाऊस का निर्माण किया जा रहा है। इसमें वर्ष भर सब्जियाँ उगाई जा सकेंगी। किसी भी मौसममें कोई भी सब्जी पैदा की जा सकेगी।

सचिव श्री मनोहर दुबे ने बताया कि आज पारम्परिक खेती के अलावा संरक्षित खेती की भी आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि रसायन और कीटनाशक का उपयोग प्रतिबंधित करने के लिये जैविक खेती को ज्यादा महत्व देना होगा। इससे पैदावार और आय, दोनों बढ़ेगी। साथ ही, कम लागत के साथ अधिक उत्पादन से देश को आर्थिक मजबूती मिलेगी। श्री दुबे ने कहा कि इसी मंशा से राजभवन में फल, फूल, सब्जियाँ आदि उगाने के लिये आधुनिक पद्धति के उपयोग का प्रदर्शन केन्द्र तैयार कराया जा रहा है। यह केन्द्र प्रदेश की जनता को नई तकनीक से अवगत कराएगा। इससे लोगों को आधुनिक खेती के बारे में जानकारी भी मिल सकेगी।

राजभवन में पारम्परिक खेती के स्थान पर संरक्षित खेती की जायेगी। इसमें बिना मिट्टी के जैविक उत्पादन भी किया जायेगा, जिसे सॉइल लेस फार्मिंग के नाम से जाना जाता है। इससे मिट्टी पर निर्भरता कम होगी। नगरीय क्षेत्रों के निवासी राजभवन की खेती को देख कर आधुनिक विधि से अपने घरों में बिना मिट्टी के अपनी जरूरत के अनुसार ताजी सब्जियाँ उगा सकेंगे।


पाठको की राय
1
आपकी राय
Name
Email
Description