Put your alternate content here
Today Visitor :
Total Visitor :


प्रदेश में कोरोना की रिकवरी रेट 75 प्रतिशत हुई      |      बीसीसीआइ की एक टीम यूएई में इंडियन प्रीमियर लीग 2020 की तैयारियों का जायजा लेने के लिए जाएगी      |       मशहूर शायर राहत इंदौरी नहीं रहे      |      राज्यपाल श्रीमती पटेल से मिले स्कूली बच्चे      |      प्रदेश में कोरोना की रिकवरी रेट 75 प्रतिशत हुई      |      प्रदेश में बनेगा एकीकृत जॉब पोर्टल: मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      एक महीने के अंदर चुना जाएगा नया आईसीसी चेयरमैन      |      वजन बढ़ने पर लोग करने लगे थे भद्दे कमेंट्स-दीपिका सिंह      |      आईपीएल की टाइटल स्पॉन्सरशिप के लिए बीसीसीआई ने डाला टेंडर      |      पुस्तक अध्ययन को आदत बनाएं      |      नई शिक्षा नीति का मध्यप्रदेश में होगा आदर्श क्रियान्वयन- मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      "गंदगी भारत छोड़ो-मध्यप्रदेश" अभियान 16 से 30 अगस्त तक      |      आइसीसी चेमरमैन के चुनाव के लिए नॉमिनेशन प्रक्रिया पर रहेगा जोर      |      मौनी रॉय के रिंग फिंगर पर दिखी हीरे की अंगूठी      |      मंत्री डॉ. मिश्रा ने हितग्राहियों को ट्राइसिकल और आर्थिक सहायता के चेक प्रदान किए      |      कोरोना पर जीत से कम कुछ नहीं चाहिए - मुख्यमंत्री श्री चौहान      |       सुशांत के पिता और बहन से मिले हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर      |      इंग्लैंड की टीम जीत के करीब      |      "होम आइसोलेशन" वाले मरीजों के मॉनीटरिंग की अच्छी व्यवस्था करें      |      प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश में सकारात्मक बदलाव हो रहे हैं      |      आम आदमी की जिन्दगी सरल बनाना ही सुशासन : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      हॉकी नेशनल कैंप के लिए SAI बेंगलुरु पहुंचने पर 5 हॉकी प्लेयर्स का टेस्ट पॉजिटिव      |      कुर्ता पहने क्रिकेट बैट पकड़े नजर आई कटरीना कैफ      |      विशेष विशेषज्ञों के सुझावों के आधार पर बनेगा आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का रोडमैप      |      गणेश उत्सव, जन्माष्टमी, मोहर्रम आदि त्यौहार सार्वजनिक रूप से नहीं मनाए जा सकेंगे      |      पाकिस्तानी गेंदबाजों ने मचाया धमाल      |      राष्ट्रीय महिला आयोग ने महेश भट्ट, उर्वशी रौतैला, ईशा गुप्ता, मौनी रॉय और प्रिंस नरूला के खिलाफ एक नोटिस जारी किया       |      आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के लिये रोडमेप तैयार करने वेबीनार्स का आयोजन      |      किसानों को उर्वरक की कमी नहीं आने दी जाए : मंत्री श्री पटेल      |      मध्यप्रदेश में फिर से लागू होगी भामाशाह योजना : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      

आनंद की बात

दुनिया में अब तक 211597 लोगों की जान ले चुका है। अभी तक जितने शोध सामने आए हैं उनमें ये बात सामने आ चुकी है कि कुछ मरीजों में इस वायरस के शुरुआती लक्षण दिखाई नह
आगे पढ़ेंअन्य विविध समाचार
श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य-दिव्य मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन तो बुधवार को होना है लेकिन इससे पहले मंगलवार को ही नए मॉडल की तस्वीर सामने आ गई है।... ...
आगे पढ़ें
कोरोनो वायरस महामारी ने दुनिया के लगभग सभी हिस्सों में चिंता और दहशत पैदा कर दी है, लेकिन बुज़ुर्गों, मधुमेह और हृदय की समस्याओं, धूम्रपान करने वाले लोगों और गर्भवती महिलाओं को COVID-19 के लिए उच्च जोखिम वाली श्रेणी में रखा गया है।...
आगे पढ़ें
ढाई हजार में से 835 असिस्टेंट प्रोफेसर्स को मिली नियुक्ति; छठे दिन धरना समाप्तBookmark and Share

 राजधानी के नीलम पार्क में छह दिन से अनशन कर रहे मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग (पीएससी) से चयनित 2700 असिस्टेंट प्रोफेसर्स में से 835 उम्मीदवारों को नियुक्ति पत्र जारी करने के आदेश उच्च शिक्षा विभाग ने जारी कर दिए हैं। ये खबर मिलते ही छह दिन से जारी अनशन और धरना-प्रदर्शन दोपहर करीब डेढ़ बजे खत्म कर दिया गया लेकिन देर शाम चयनित प्राध्यापक संघ ने सभी उम्मीदवारों को नियुक्ति पत्र नहीं मिलने तक प्रदर्शन जारी रखने का निर्णय लिया। हालांकि यह प्रदर्शन अब संभाग स्तर पर होगा। हालांकि शेष उम्मीदवारों के नियुक्ति पर 10 को कार्ट के निर्णय आने के बाद होगा।

5 महीने से कर रहे हैं नियुक्ति का इंतजार 
असिस्टेंट प्रोफसर्स 15 महीनों से नियुक्ति के लिए संघर्ष कर रहे हैं। इसमें 2719 उम्मीदवारों का सब्र का बांध टूट सा गया है। 24 नवंबर को डॉ. भीमराव अंबेडकर की जन्मभूमि महू से पद यात्रा (संविधान रक्षा यात्रा) शुरू हुई और शनिवार को भोपाल पहुंची। शनिवार को यात्रा में शामिल लोगों को शहर में प्रवेश नहीं करने दिया गया था। रविवार को यात्रा शामिल लोग शहर में प्रवेश कर गए और नीलम पार्क में जमा हो गए। इसके बाद मुंडन कराया गया, महिला प्रोफेसर्स अपने बच्चों को लेकर आ गईं। 

 

सरकारी कॉलेजों में खाली हैं असिस्टेंट प्रोफेसर्स के 4227 पद 
उच्च शिक्षा विभाग के सरकारी कॉलेजों में असिस्टेंट प्रोफेसर के 9037 में से 4727 पद खाली हैं। इनमें से करीब 3379 पदों पर भर्ती के लिए विभाग की डिमांड पर मप्र लोक सेवा आयोग (एमपीपीएससी) ने ऑनलाइन परीक्षा आयोजित कर लगभग 2719 उम्मीदवारों का चयन किया। यह उम्मीदवार पिछले 15 महीनों से नियुक्ति के लिए संघर्ष कर रहे हैं। 


पाठको की राय
1
आपकी राय
Name
Email
Description