Put your alternate content here
Today Visitor :
Total Visitor :


सुशांत के पिता और बहन से मिले हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर      |      इंग्लैंड की टीम जीत के करीब      |      "होम आइसोलेशन" वाले मरीजों के मॉनीटरिंग की अच्छी व्यवस्था करें      |      प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश में सकारात्मक बदलाव हो रहे हैं      |      आम आदमी की जिन्दगी सरल बनाना ही सुशासन : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      हॉकी नेशनल कैंप के लिए SAI बेंगलुरु पहुंचने पर 5 हॉकी प्लेयर्स का टेस्ट पॉजिटिव      |      कुर्ता पहने क्रिकेट बैट पकड़े नजर आई कटरीना कैफ      |      विशेष विशेषज्ञों के सुझावों के आधार पर बनेगा आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का रोडमैप      |      गणेश उत्सव, जन्माष्टमी, मोहर्रम आदि त्यौहार सार्वजनिक रूप से नहीं मनाए जा सकेंगे      |      पाकिस्तानी गेंदबाजों ने मचाया धमाल      |      राष्ट्रीय महिला आयोग ने महेश भट्ट, उर्वशी रौतैला, ईशा गुप्ता, मौनी रॉय और प्रिंस नरूला के खिलाफ एक नोटिस जारी किया       |      आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के लिये रोडमेप तैयार करने वेबीनार्स का आयोजन      |      किसानों को उर्वरक की कमी नहीं आने दी जाए : मंत्री श्री पटेल      |      मध्यप्रदेश में फिर से लागू होगी भामाशाह योजना : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      वनडे रैंकिंग्स- विराट कोहली और रोहित शर्मा टॉप पर      |      रवीना ने करियर को लेकर किए बड़े खुलासे      |      संघ प्रमुख मोहन भागवत बोले- संकल्प पूरा हुआ      |      मंत्री श्री देवड़ा द्वारा जन-अभियान परिषद की गतिविधियों की समीक्षा की      |      नागरिकों को इलाज के लिए प्रदेश के बाहर न जाना पड़े ऐसी व्यवस्था आवश्यक - मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      इयोन मोर्गन ने रचा इतिहास, इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले कप्तान बने      |      सुशांत सिंह राजपूत का सच बाहर आना चाहिए- अनुपम खेर      |      UPSC परीक्षा परीणामों में सफल हुए छात्रों को पीएम मोदी ने बधाई दी      |      स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम की रूपरेखा तय      |      आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के लिए नीति आयोग के निर्देशन में वेबीनार मील का पत्थर सिद्ध होगा      |      60 साल या अधिक उम्र का व्यक्ति ट्रेनिंग में नहीं ले सकेगा हिस्सा-BCCI      |       रक्षा बंधन देशभर में धूमधाम से मनाया गया      |      अमृता फडणवीस बोलीं- मुंबई सुरक्षित नहीं      |      रक्षा मंत्री और लखनऊ के सांसद राजनाथ स‍िंंह अयोध्‍या नहीं जाएंगे      |      कोरोना उपचार की व्यवस्थाओं में निरंतर बढ़ोत्तरी      |      मोबाइल कंपनी बनी रहेगी आईपीएल प्रयोजक      |      

आनंद की बात

दुनिया में अब तक 211597 लोगों की जान ले चुका है। अभी तक जितने शोध सामने आए हैं उनमें ये बात सामने आ चुकी है कि कुछ मरीजों में इस वायरस के शुरुआती लक्षण दिखाई नह
आगे पढ़ेंअन्य विविध समाचार
श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य-दिव्य मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन तो बुधवार को होना है लेकिन इससे पहले मंगलवार को ही नए मॉडल की तस्वीर सामने आ गई है।... ...
आगे पढ़ें
कोरोनो वायरस महामारी ने दुनिया के लगभग सभी हिस्सों में चिंता और दहशत पैदा कर दी है, लेकिन बुज़ुर्गों, मधुमेह और हृदय की समस्याओं, धूम्रपान करने वाले लोगों और गर्भवती महिलाओं को COVID-19 के लिए उच्च जोखिम वाली श्रेणी में रखा गया है।...
आगे पढ़ें
पांव में बने नीले या बैंगनी रंग के निशानों को हल्‍के में लेने की भूल न करेBookmark and Share

 कोरोना वायरस और इसके मरीजों को लेकर कई तरह के शोध सामने आ चुके हैं और कई शोध अभी चल भी रहे हैं। पूरी दुनिया में अब तक 211597 लोगों की जान ले चुका है। अभी तक जितने शोध सामने आए हैं उनमें ये बात सामने आ चुकी है कि कुछ मरीजों में इस वायरस के शुरुआती लक्षण दिखाई नहीं देते हैं। इसलिए ऐसे लोग समाज और दुनिया के लिए सबसे बड़ा खतरा हैं। आपको बता दें कि विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने चीन में इसके कहर के बाद ही इसके लक्षणों को लेकर खुलासा किया था। इसके मुताबिक खांसी, जुकाम और बुखार इसके शुरुआती लक्षण हैं। ऐसा होने पर संगठन ने तुरंत अस्‍पताल में दिखाने की सलाह दी थी। लेकिन अब अमेरिका के रोग नियंत्रण एवं रोकथाम विभाग (सीडीसी) ने इसमें कुछ और लक्षण जोड़ दिए हैं।

डॉक्‍टरों और मरीजों को चेताया है कि बच्‍चों के पांव पर उभरे नीले या बैंगनी रंग के निशान कोराना वायरस के लक्षण हो सकते हैं। लिहाजा इन्‍हें नजरअंदाज न करें। चिकित्सकों ने इसे ‘कोविड टोज' नाम दिया है।

सीडीसी के मुताबिक कोरोना वायरस के मरीजों में जो लक्षण शुरुआत में बताए गए थे उनमें कुछ दूसरे लक्षणों पर भी अब ध्‍यान देने की जरूरत है। सीडीसी ने दुनिया के डॉक्‍टरों और लोगों को सतर्क करते हुए चेतावनी दी हैकि यदि किसी व्‍यक्ति को सिरदर्द, कंपकंपी, गले में खराश, मांसपेशियों में तनाव और मुंह का स्वाद बिगड़ने या सूंघने की क्षमता कमजोर होती लगे तो इसको किसी भी सूरत से हल्‍के में न लें। ऐसी कोई भी शिकायत होने पर तुरंत चिकित्‍सक की सलाह लें या कोरोना वायरस का टेस्‍ट करवाने अस्‍पताल पहुंच जाएं। 

 
 
 
 

पाठको की राय
1
आपकी राय
Name
Email
Description