Put your alternate content here
Today Visitor :
Total Visitor :


वेस्टइंडीज के कप्तान होल्डर टेस्ट में नंबर वन ऑलराउंडर बने      |      2022 फुटबॉल विश्व कप: फीफा ने मैच की तारीखों का किया एलान      |      जोया अख्तर के सिक्योरिटी गार्ड को भी हुआ कोरोना      |      दीपिका पादुकोण ने अपने इंस्टाग्राम पर फैंस से पूछे गए सारे सवालों का दिया जवाब      |      प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 10वीं और 12वीं कक्षाओं की केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) परीक्षा में पास हुए अपने ‘‘युवा साथियों’’ को बुधवार को बधाई दी      |      पॉजीटिव प्रकरण की वजह को ही समाप्त करें : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      किसानों की एक-एक इंच भूमि तक पानी पहुंचाने के प्रभावी प्रयास करेंगे      |      मध्यप्रदेश साहूकारी संशोधन विधेयक एवं अनुसूचित जनजाति ऋण मुक्ति विधेयक को कैबिनेट की स्वीकृति      |      बेटियों के विरुद्ध अपराध करने वालों को छोडूंगा नहीं      |      आगर-मालवा जिले के विकास में कोई कसर नहीं छोडूंगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      पूर्व भारतीय क्रिकेटर चेतन चौहान कोरोना से संक्रमित      |      धूम मचा रहा निरहुआ और शुभी शर्मा का ये रोमांटिक भोजपुरी सॉन्ग      |      अमिताभ बच्चन कोरोना पॉजिटिव पाए गए      |      कृषि मंत्री श्री पटेल ने फसलों का लिया जायजा      |      मास्क न पहनने वाले व्यक्तियों के लिए होगा रोको-टोको कार्यक्रम      |      इंग्लैंड का स्कोर 249/4      |      श्रद्धा कपूर के इंस्टाग्राम पर हुए 5 करोड़ फॉलोअर्स      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान स्पेश‍लिटी हॉस्पिटल पहुँचे      |      सभी के सहयोग से कोरोना को पराजित करेंगे      |      कोरोना की मैदानी स्थिति जानने मुख्यमंत्री श्री चौहान पहुँचे ग्वालियर-मुरैना      |      राहुल जौहरी का इस्तीफा बीसीसीआई ने स्वीकार किया      |      तापसी पन्नू को याद आईं बीते समय की चुनौतियां      |      महाराष्ट्र में 7,800 से अधिक नए मामले सामने आए       |      मुख्यमंत्री श्री चौहान 11 जुलाई को मुरैना में करेंगे पथ-व्यवसाइयों से संवाद      |      गत एक सप्ताह में प्रदेश में मृत्यु दर में उल्लेखनीय गिरावट      |      कोरोना वायरस की वजह से एशिया कप रद्द हुआ, अगले साल जुलाई में होगा आयोजन      |      कई महीनों के बाद वापस शूटिंग पर जाना काफी अच्छा अनुभव रहा: आयुष्मान खुराना      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मध्यप्रदेश पुलिस को दुर्दान्त अपराधी पकड़ने पर दी बधाई      |      प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी 10 जुलाई को विश्व की बड़ी सौर परियोजनाओं में शामिल रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर परियोजना राष्ट्र को समर्पित करेंगे      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान ने रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर परियोजना कार्यक्रम की तैयारियों की समीक्षा की      |      

आनंद की बात

दुनिया में अब तक 211597 लोगों की जान ले चुका है। अभी तक जितने शोध सामने आए हैं उनमें ये बात सामने आ चुकी है कि कुछ मरीजों में इस वायरस के शुरुआती लक्षण दिखाई नह
आगे पढ़ेंअन्य विविध समाचार
साल 2020 का पहला सूर्य ग्रहण 21 जून को लगने जा रहा है। खास बात ये हैं कि ये वलयाकार सूर्य ग्रहण होगा जिसमें चंद्रमा सूर्य का करीब 98.8% भाग ढक देगा। ...
आगे पढ़ें
कोरोनो वायरस महामारी ने दुनिया के लगभग सभी हिस्सों में चिंता और दहशत पैदा कर दी है, लेकिन बुज़ुर्गों, मधुमेह और हृदय की समस्याओं, धूम्रपान करने वाले लोगों और गर्भवती महिलाओं को COVID-19 के लिए उच्च जोखिम वाली श्रेणी में रखा गया है।...
आगे पढ़ें
लॉक‘डाउन’ में गेहूं का उपार्जन हुआ सबसे ‘टॉप’Bookmark and Share

 वैश्विक महामारी कोरोना के चलते इस बार सरकार को लॉकडाउन लागू करना पड़ा, लेकिन प्रदेश के किसानों की मेहनत और उनका जज्बा इस बार सबसे हाई रहा। यही वजह है कि मध्यप्रदेश के इतिहास में इस बार सबसे ज्यादा गेहूं खरीदी दर्ज की गई। गेहूं खरीदी के मामले में मध्यप्रदेश पंजाब के बाद देश में दूसरे स्थान पर है। इस व्यापक संकट में भी गेहूं विक्रय के लिये 20 मई तक19.52 लाख किसानों ने पंजीयन कराया, जो पिछले पांच वर्षों में सबसे ज्यादा है। वहीं पंजीकृत किसानों के उपार्जन केंद्रों में पहुंचने पर भी उत्साहजनक वृद्धि देखने को मिली। गत वर्ष 19.81 लाख पंजीकृत किसानों में से 9.66 लाख यानी 49 प्रतिशत किसानों ने ही वास्तविक तौर पर उपार्जन केंद्रों में जाकर अपनी फसल बेची थी, लेकिन इस वर्ष 20 मई तक 19.52 लाख किसानों में 13.87 किसान यानी 71 प्रतिशत किसानों ने खुद उपार्जन केंद्र जाकर अपनी फसल का विक्रय किया। इस बार किसानों को अपनी फसल बेचने के लिये अन्य माध्यम जैसे सौदा पत्रक और प्राइवेट खरीदी केंद्र की व्यवस्था भी की गई, लेकिन उपार्जन केंद्रों पर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदान की गई सुदृढ़ व्यवस्था और अन्य सेवाओं के कारण किसानों ने प्राथमिकता से उपार्जन केंद्रों पर जाकर अपनी फसल का सौदा किया।

  • पिछले पांच में वर्षों में इस बार पोर्टल पर सबसे ज्यादा 19.52 लाख  किसान हुये पंजीकृत

  • व्यवस्था और अन्य सरकारी उपायों के कारण उपार्जन केंद्र बने किसानों की पहली पसंद

  • भारी वृद्धि के साथ पंजीकृत किसानों में से 71 प्रतिशत किसान पहुंचे उपार्जन केंद्र

  • रिकार्ड 15 लाख किसानों से 110 लाख मीट्रिक टन से ज्यादा का उपार्जन

  • 85 प्रतिशत उपार्जित फसलों का सुरक्षित परिवहन और भंडारण

  • 12 लाख किसानों को 12 हजार करोड़ रुपये का हुआ भुगतान

गत वर्ष इसी अवधि में प्रदेश के किसानों से 73.65 लाख मीट्रिक टन गेहूं का उपार्जन किया गया था, लेकिन इस बार अब तक 15 लाख किसानों से 110 लाख मीट्रिक टन का उपार्जन किया जा चुका है। अभी भी मई माह को पूरा होने में कुछ दिन बचे हैं। ऐसे में निश्चित तौर पर उपार्जन का यह रिकार्ड और मजबूत होगा, जो अपने आप में एक कीर्तिमान स्थापित करेगा। खरीदी के साथ-साथ किसानों का भुगतान भी जल्द से जल्द किया जा रहा है। समर्थन मूल्य में उपार्जित गेहूं के विरुद्ध 22 मई तक 12 लाख किसानों को 12 हजार करोड़ रुपये का भुगतान किया जा चुका है। सरकार द्वारा भंडारण की भी समुचित व्यवस्था की गई हैं, अब तब उपार्जित गेहूं का 85 प्रतिशत परिवहन कर सुरक्षित भंडारण कराया जा चुका है। उपार्जन और भुगतान की प्रक्रिया सतत रूप से जारी है, श्री मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के अनुसार प्रदेश के किसानों से उनकी उपज का एक-एक दाना खरीदा जायेगा।

 

पाठको की राय
1
आपकी राय
Name
Email
Description