Put your alternate content here
Today Visitor :
Total Visitor :


हैदराबाद की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारत 20 ओवर में 4 विकेट खोकर 162 रन बनाए      |      शेखर कपूर बने फ़िल्म इंस्टीट्यूट के अध्यक्ष      |      चीन का एक और कैट क्यू वायरस हमला करने को तैयार      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी से नई दिल्ली में मुलाकात की      |      नर्सिंग होम और निजी हॉस्पिटल कोविड 19 के इलाज की निर्धारित दरें रिसेप्शन काउंटर पर प्रदर्शित करें      |       बैंगलोर ने मुंबई को दिया 202 रनों का लक्ष्य      |      सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में AIIMS की टीम ने प्रारंभिक रिपोर्ट CBI को सौंप दी       |      मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा ग्राम कोद में सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा का अनावरण      |      मुख्यमंत्रीश्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को देवास जिले में हाटपीपल्‍या विधानसभा क्षेत्र के ग्राम बरोठा में 1041 करोड़ के 168 विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया।       |      कृषि उपज मंडियां बंद नहीं होगी और प्‍याज के भावांतर की राशि भी किसानों को दी जायेगी - मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 1587 करोड़ की नर्मदा उद्वहन सिंचाई परियोजना का किया भूमि पूजन      |      पीएम आवास योजना से गरीबों के पक्के घर का सपना हुआ साकार- स्वास्थ्य मंत्री      |      मंत्री श्री सखलेचा द्वारा किसानों को किसान सम्मान निधि के लाभ पत्र वितरित      |      शुभमन गिल ने 42 गेंदों में अर्धशतक ठोका      |      सुनील गावस्कर का अनुष्का शर्मा को जवाब- गलत टिप्पणी या महिला विरोधी बात नहीं की      |      3000 एपिसोड पूरे होने की खुशी में पूरी टीम ने मनाई पार्टी      |      समाज के विघटनकारी तत्‍वों को चिन्हित कर कठोर कार्यवाही करें- गृह मंत्री डॉ. मिश्रा      |      राज्य सरकार हर कदम पर विद्यार्थियों के साथ : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      जैरा मध्यम सिंचाई परियोजना का कार्य शीघ्र शुरू होगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |       मुंबई पहुंचीं दीपिका पादुकोण      |      केएल राहुल ने धमाकेदार शतक से सहवाग को छोड़ा पीछे      |      बैरसिया को आद्योगिक क्षेत्र बनाने पर विचार - मंत्री श्री सखलेचा      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान ने डबरा क्षेत्र को दी कई बड़ी सौगातें      |      3 वर्ष में कोई भी घर कच्चा नहीं रहेगा      |      मुंबई इंडियंस ने कोलकाता को दिया 196 रन का टारगेट      |      कोरोना संक्रमित हुईं श्वेता तिवारी      |      स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने गौशालाओं का किया भूमिपूजन      |      शासकीय विभागों में रिक्त पद भरने के लिए तत्काल प्रक्रिया प्रारंभ करें- मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      किसानों के हित में फसल बीमा योजना नए स्वरूप में लाई जाएगी : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      राजस्थान रॉयल्स ने बनाया IPL 2020 का सबसे बड़ा स्कोर      |      

आनंद की बात

दुनिया में अब तक 211597 लोगों की जान ले चुका है। अभी तक जितने शोध सामने आए हैं उनमें ये बात सामने आ चुकी है कि कुछ मरीजों में इस वायरस के शुरुआती लक्षण दिखाई नह
आगे पढ़ेंअन्य विविध समाचार
श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य-दिव्य मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन तो बुधवार को होना है लेकिन इससे पहले मंगलवार को ही नए मॉडल की तस्वीर सामने आ गई है।... ...
आगे पढ़ें
भारतीय धर्म और संस्कृति में भगवान गणेशजी सर्वप्रथम पूजनीय और प्रार्थनीय हैं। ...
आगे पढ़ें
पुस्तक अध्ययन को आदत बनाएंBookmark and Share

 राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि बच्चों में असीमित क्षमता होती है। आवश्यकता उनकी शक्ति और कौशल को निखारकर अवसर देने की है। उन्होंने कहा कि राजभवन परिवार के सभी बच्चों के लिए कंप्यूटर शिक्षा, पुस्तकालय और रचनात्मक गतिविधियों के लिए व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने राजभवन के कर्मचारियों का आव्हान किया कि बच्चों में पुस्तक अध्ययन की आदत डालें। शनिवार और रविवार को हर बच्चा एक घंटा पुस्तक जरूर पढ़े। श्रीमती पटेल ने यह बात राजभवन स्थित सांदीपनि सभागार में राजभवन के कर्मचारियों के लिये निर्मित 40 कर्मचारी आवास लोकार्पण उपरांत कही। इस अवसर पर मंत्री लोक निर्माण विभाग श्री गोपाल भार्गव भी मौजूद थे।

राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि बच्चों को अच्छे संस्कार, आचार-विचार देना माता-पिता की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि महापुरुषों ने जीवन में विपरीत परिस्थितियों में भी संघर्ष करते हुए पढ़ने लिखने को प्राथमिकता देकर, अपने जीवन का निर्माण किया हैं। राष्ट्रनिर्माण के लिए पढ़ना लिखना जरूरी है। उन्होंने कहा कि समाज और राष्ट्र को श्रेष्ठ बनाने के लिए जरूरी है कि जो जिस स्तर पर है, वह उसके निचले क्रम में व्यक्तियों के संबंध में विचार करें, उनके लिए चिंता और प्रयास करें। श्रीमती पटेल ने कहा कि राजभवन सबका है, इसीलिए मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और उत्तरप्रदेश में आमजन के लिए राजभवन को खुलवाया है। उन्होंने बताया कि 'पढ़े भोपाल अभियान' में ढाई लाख लोगों ने भाग लिया था। उत्तरप्रदेश में इस प्रयास में अभी तक एक करोड़ से अधिक बच्चों ने पुस्तकों का अध्ययन किया है।

उन्होंने कहा कि राजभवन मध्यप्रदेश ने सर्वग्राही व्यवस्था का उत्तम उदाहरण प्रस्तुत किया है। विश्वास है कि शेष आवास भी तय समय सीमा में पूर्ण होंगे। उन्होंने सभी कर्मचारियों को बधाई देते हुए भवन नाम पट्टिकाओं में गृहणी का नाम भी लिखें जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि घर की सफाई महिला करती है। परिसर की सफाई, पौध रोपण और उनकी देखभाल की जिम्मेदारी परिवार के अन्य सदस्य उठाएं। उन्होंने कहा कि राजभवन केवल राज्यपाल का नहीं, उनका भी है। इसी भावना से जल, पर्यावरण संरक्षण और स्वच्छता के कार्यों की जिम्मेदारी निभाएं। अच्छा पर्यावरण अच्छे स्वास्थ्य का आधार है।

लोक निर्माण, लघु एवं कुटीर उद्योगमंत्री श्री गोपाल भार्गव ने कहा दुनियाँ में अपने लिये तो सभी जीते है पर जो दूसरों के कष्टों की अनुभूति करके उनकी मदद करते है, वही बड़े होते है। वर्ष 1880 और 1905 में बने जर्जर आवास देखकर राजभवन की सेवा करने वालों के दर्द को समझ कर आवास बनवाना, राज्यपाल श्रीमती पटेल की संवेदन शीलता का परिचायक है। हर्ष की बात है कि जिनकी पहल पर मकानों का निर्माण कार्य प्रारंभ हुआ, उन्हीं के हाथों लोकापर्ण हुआ है। उन्होंने कहा कि राज्यपाल का पद सिर्फ शोभा बढ़ाने के लिये नहीं होता, राज्यपाल अपने संवैधानिक दायित्वों के साथ-साथ कार्यपालक दायित्वों का भी निर्वहन कर सकते है। श्रीमती पटेल ने ऐसा कर के दिखाया है। उन्होंने राज्यपाल को आश्वस्त किया कि प्रथम चरण के 40 मकानों का कार्य पूरा होने के बाद द्वितीय और फिर तृतीय चरण का शेष कार्य यथा शीघ्र उनके निर्देशों के अनुरूप पूरा किया जायेगा।

लोकार्पण अवसर पर राजभवन के कर्मचारियों की ओर से कृतज्ञता ज्ञापित करते हुए आवास आवंटी श्री अशोक शर्मा ने कहा कि राज्यपाल राजभवन परिवार के कर्मचारियों के साथ-साथ उनके परिवारों के प्रति भी बेहद संवेदनशील है। उन्होंने बताया कि राजभवन के 30 वर्षों के सेवा काल में पहली बार कर्मचारियों के आवासों को देखने किसी राज्यपाल ने भ्रमण किया था। उन्होंने जर्जर आवास देखकर उनका दर्द समझा और बिना कहें कर्मचारियों की मनोकामना पूरी की है। उन्होंने राजभवन में ओपन जिम, पंचतंत्र वन, आयुर्वेदिक उद्यान, आयुर्वेद और होम्योपैथी उपचार की व्यवस्था राजभवन के कर्मचारियों के लिये कराने के लिए राज्यपाल का आभार माना।

लोकार्पण के पश्चात राज्यपाल श्रीमती पटेल ने लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव एवं अधिकारियों ने बुन्देलखंड परिसर के आवास क्रमांक 2/4 का निरीक्षण किया।

कार्यक्रम में भवन निर्माण एजेन्सी के डायरेक्टर श्री अखिलेश अग्रवाल ने इस परियोजना के संबंध में प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए बताया कि तीन चरणों में निर्मित इन भवनों में रूफवाटर हार्वेस्टिंग के साथ-साथ भूकंप रोधी व्यवस्थायें भी की गई है। कार्यक्रम का संचालन राजभवन नियंत्रक श्रीमती सुरभि तिवारी ने किया। आभार प्रमुख अभियंता लोक निर्माण विभाग श्री सी.पी. अग्रवाल ने व्यक्त किया।



पाठको की राय
1
आपकी राय
Name
Email
Description