Put your alternate content here
Today Visitor :
Total Visitor :


ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों के खिलाफ क्या थी टीम इंडिया की रणनीति      |      क्रिकेटर मोहम्मद सिराज को पिता की कब्र पर देख भावुक हुए धर्मेंद्र      |      अच्छी सोच और स्वास्थ्य के लिए जरूरी है खेल: राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की उदगम स्थल पर माँ नर्मदा की पूजा अर्चना      |      माँ नर्मदा के आशीर्वाद से मध्यप्रदेश में आती है सुख- समृद्धि : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      लसिथ मलिंगा ने कर दी संन्यास की घोषणा      |      सुशांत सिंह राजपूत के जन्मदिन से पहले फैंस ने किया दिवंगत एक्टर को याद      |      पात्र शासकीय सेवकों को शीघ्र दी जाए पदोन्नति : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      प्रदेश में कोरोना टीकाकरण का कार्य सुचारू      |      प्रदेश में लैंड टाइटलिंग के लिए कानून बनाया जाएगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      भारतीय क्रिकेट फैन पर सिडनी में सुरक्षाकर्मी ने की थी नस्ली टिप्पणी      |      नोरा फतेही ने सोशल मीडिया पर शेयर की दिलचस्प तस्वीरें      |      सीवरेज परियोजनाओं का कार्य तीव्र गति से किया जाए      |      स्वदेशी वैक्सीन का निर्माण गर्व का विषय : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      सिंगरौली में 2024 तक हर गरीब को मिलेंगे पक्के आवास : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      नवदीप सैनी गेंदबाजी करते हुए अचानक से इंजर्ड हो गए      |      अभिनेत्री प्रणिता सुभाष ने राम मंदिर निर्माण के लिए दिए एक लाख      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान सिंगरौली से करेंगे प्रदेश में कोरोना वैक्सीन टीकाकरण का शुभारंभ      |      मुरैना कलेक्टर, एस.पी. को हटाने के निर्देश      |      वन्यप्राणी संरक्षण और विकास में संतुलन हो : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      भारतीय टीम का चौथे टेस्ट में कैसा होगा प्लेइंग इलेवन      |      अनूप जलोटा ने अपनाया सत्य साईं बाबा का भेष      |      भोपाल आयी कोरोना वैक्सीन      |      डॉ. कुँवर बैचेन एवं डॉ. शिवओम अम्‍बर को राष्‍ट्रीय कवि प्रदीप सम्‍मान      |      राज्यमंत्री श्री परमार ने किया उमंग किशोर हेल्पलाइन की वीडियो फिल्म का विमोचन      |      रहाणे की कप्तानी का कायल हुआ यह ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर      |      कार्तिक आर्यन ने 10 दिनों में पूरी की फिल्म 'धमाका' की शूटिंग      |      जरूरत के अनुसार ही बनायें विद्युत उप-केन्द्र, इनकी पूरी क्षमता का हो उपयोग      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान ने युवा दिवस पर स्वामी विवेकानंद को नमन किया      |      श्री महाकाल विकास योजना को मंजूरी      |      

आनंद की बात

दुनिया में अब तक 211597 लोगों की जान ले चुका है। अभी तक जितने शोध सामने आए हैं उनमें ये बात सामने आ चुकी है कि कुछ मरीजों में इस वायरस के शुरुआती लक्षण दिखाई नह
आगे पढ़ेंअन्य विविध समाचार
श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य-दिव्य मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन तो बुधवार को होना है लेकिन इससे पहले मंगलवार को ही नए मॉडल की तस्वीर सामने आ गई है।... ...
आगे पढ़ें
भारतीय धर्म और संस्कृति में भगवान गणेशजी सर्वप्रथम पूजनीय और प्रार्थनीय हैं। ...
आगे पढ़ें
गाय बनेगी आर्थिक स्वावलंबन का आधार - मुख्यमंत्री श्री चौहानBookmark and Share

 मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने गौ-धन संरक्षण और संवर्धन के लिए गठित मंत्रिपरिषद समिति की वर्चुअल बैठक में कहा कि गौ-वंश के प्रति हमारी आस्था और श्रद्धा है। प्राचीनकाल में गाय और बैल ग्रामीण अर्थव्यवस्था के आधार थे। वर्तमान में भी गौ-संरक्षण और संवर्धन के कार्य आर्थिक स्वावलम्बन का आधार बन सकते हैं।

आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाने के लिए राज्य सरकार कटिबद्ध है। इस दिशा में गौ-माता अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करेगी। गाय का दूध अमृत है। कुपोषण को दूर करने में गाय के दूध का भरपूर उपयोग हो सकता है। गाय का गोबर कृषि के लिये संजीवनी है। इसका उपयोग खाद बनाने में कर रासायनिक खाद के उपयोग को कम किया जा सकता है। गोबर से बड़े स्तर पर गौ-काष्ठ का निर्माण और उपयोग कर लकड़ी के प्रयोग को कम किया जा सकता है। जंगलों को बचाया जा सकता है। गौ-मूत्र से कीटनाशक और औषधियों बनती है।

गौ-मूत्र, गोबर, दूध का पूर्ण उपयोग

राज्य सरकार गौ-संरक्षण और संवर्धन के साथ दूध, गोबर और गौ-मूत्र का उपयोग पूरी गम्भीरता के साथ मानव कल्याण के लिए करेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गौ-संरक्षण, संवर्धन के लिए पशुपालन विभाग, कृषि, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, गृह, वन और राजस्व विभागों को जिम्मेदारी सौंपी जाएगी। उन्होंने कहा गौ-संरक्षण एवं संवर्धन में मध्यप्रदेश देश में मिसाल कायम करे ऐसे प्रयास होंगे। गौ-संरक्षण एवं संवर्धन के लिये गठित मंत्रिपरिषद समिति की बैठक में निम्नानुसार निर्णय लिये गये हैं।

गौ-शालाओं का बेहतर संचालन

मुख्यमंत्री गौ-सेवा योजना अंतर्गत स्वीकृत गौ-शालाओं का संचालन शासन द्वारा सक्षम और इच्छुक समाजसेवी संस्थाओं तथा स्व-सहायता समूह के सहयोग से किया जाएगा। गौ-शालाओं के संचालन में जनसहयोग लिया जाएगा। गौ-शालाओं के संचालन और गौ-संरक्षण एवं संवर्धन के लिये आवश्यक होने पर वित्तीय संसाधन जुटाने के लिये उपकर लगाया जा सकता है। इस उपकर को लगाने में यह विशेष रूप से ध्यान रखा जाएगा कि आमजन पर आर्थिक भार नहीं बढ़े।

गोबर गैस प्लान्ट स्थापित करने की भारत सरकार की योजना के अंतर्गत ग्रामों में गोबर गैस प्लान्ट स्थापित किये जा सकेंगे। ग्रामीण परिवारों को गोबर गैस प्लान्ट से कनेक्शन दिये जा सकेंगे।

आगर-मालवा जिला स्थित गौ-अभ्यारण्य सालरिया में कृषि विज्ञान केन्द्र की तर्ज पर पशु चिकित्सा एवं पशु पालन विज्ञान केन्द्र की स्थापना नानाजी देशमुख पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय जबलपुर के माध्यम से की जाएगी।

प्रदेश की गौ-नस्लों के संरक्षण की कार्ययोजना

मध्यप्रदेश में चार वर्णित गौवंश नस्ले - मालवी, निमाड़ी, केनकथा और गओलों है। इनके संरक्षण-संवर्धन की कार्ययोजना बनायी जायेगी। इनके द्वारा दुग्ध उत्पादन बढ़ाने के लिये भी योजना बनेगी।

नगरीय क्षेत्रों में निराश्रित गौवंश के आश्रय और भरण-पोषण का सम्पूर्ण उत्तरदायित्व नगरीय निकायों को उनके वित्तीय संसाधनों को ध्यान में रखते हुये सौंपा जाएगा। इससे सड़कों पर विचरण करने वाली निराश्रित गौवंश को आश्रय मिलेगा और मार्ग पर होने वाली दुर्घटनाएं भी रूकेगी।

वन विभाग के अंतर्गत आने वाले बिगड़े वनों में चारागाह का विकास किया जाएगा। चारे का उत्पादन बढ़ाकर चारा गौ-शालाओं में भेजा जाएगा।


पाठको की राय
1
आपकी राय
Name
Email
Description