Put your alternate content here
Today Visitor :
Total Visitor :


ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों के खिलाफ क्या थी टीम इंडिया की रणनीति      |      क्रिकेटर मोहम्मद सिराज को पिता की कब्र पर देख भावुक हुए धर्मेंद्र      |      अच्छी सोच और स्वास्थ्य के लिए जरूरी है खेल: राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की उदगम स्थल पर माँ नर्मदा की पूजा अर्चना      |      माँ नर्मदा के आशीर्वाद से मध्यप्रदेश में आती है सुख- समृद्धि : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      लसिथ मलिंगा ने कर दी संन्यास की घोषणा      |      सुशांत सिंह राजपूत के जन्मदिन से पहले फैंस ने किया दिवंगत एक्टर को याद      |      पात्र शासकीय सेवकों को शीघ्र दी जाए पदोन्नति : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      प्रदेश में कोरोना टीकाकरण का कार्य सुचारू      |      प्रदेश में लैंड टाइटलिंग के लिए कानून बनाया जाएगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      भारतीय क्रिकेट फैन पर सिडनी में सुरक्षाकर्मी ने की थी नस्ली टिप्पणी      |      नोरा फतेही ने सोशल मीडिया पर शेयर की दिलचस्प तस्वीरें      |      सीवरेज परियोजनाओं का कार्य तीव्र गति से किया जाए      |      स्वदेशी वैक्सीन का निर्माण गर्व का विषय : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      सिंगरौली में 2024 तक हर गरीब को मिलेंगे पक्के आवास : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      नवदीप सैनी गेंदबाजी करते हुए अचानक से इंजर्ड हो गए      |      अभिनेत्री प्रणिता सुभाष ने राम मंदिर निर्माण के लिए दिए एक लाख      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान सिंगरौली से करेंगे प्रदेश में कोरोना वैक्सीन टीकाकरण का शुभारंभ      |      मुरैना कलेक्टर, एस.पी. को हटाने के निर्देश      |      वन्यप्राणी संरक्षण और विकास में संतुलन हो : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      भारतीय टीम का चौथे टेस्ट में कैसा होगा प्लेइंग इलेवन      |      अनूप जलोटा ने अपनाया सत्य साईं बाबा का भेष      |      भोपाल आयी कोरोना वैक्सीन      |      डॉ. कुँवर बैचेन एवं डॉ. शिवओम अम्‍बर को राष्‍ट्रीय कवि प्रदीप सम्‍मान      |      राज्यमंत्री श्री परमार ने किया उमंग किशोर हेल्पलाइन की वीडियो फिल्म का विमोचन      |      रहाणे की कप्तानी का कायल हुआ यह ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर      |      कार्तिक आर्यन ने 10 दिनों में पूरी की फिल्म 'धमाका' की शूटिंग      |      जरूरत के अनुसार ही बनायें विद्युत उप-केन्द्र, इनकी पूरी क्षमता का हो उपयोग      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान ने युवा दिवस पर स्वामी विवेकानंद को नमन किया      |      श्री महाकाल विकास योजना को मंजूरी      |      

आनंद की बात

दुनिया में अब तक 211597 लोगों की जान ले चुका है। अभी तक जितने शोध सामने आए हैं उनमें ये बात सामने आ चुकी है कि कुछ मरीजों में इस वायरस के शुरुआती लक्षण दिखाई नह
आगे पढ़ेंअन्य विविध समाचार
श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य-दिव्य मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन तो बुधवार को होना है लेकिन इससे पहले मंगलवार को ही नए मॉडल की तस्वीर सामने आ गई है।... ...
आगे पढ़ें
भारतीय धर्म और संस्कृति में भगवान गणेशजी सर्वप्रथम पूजनीय और प्रार्थनीय हैं। ...
आगे पढ़ें
मध्यप्रदेश भूकम्प की जोन 2 एवं 3 मेंBookmark and Share

 मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि गत दिनों प्रदेश के सिवनी, बालाघाट, बड़वानी, अलीराजपुर, छिंदवाड़ा, मंडला आदि जिलों तथा उनके समीप भूकंप के झटके महसूस किए गए। इनमें रिक्टर स्केल पर सर्वाधिक तीव्रता 4.3, सिवनी में आए भूकंप की थी। मध्यप्रदेश भूकम्प के जोन 2 व 3 में आता है, जो खतरनाक श्रेणी नहीं है। जोन 4 एवं 5 खतरनाक श्रेणी में आते हैं जहां भूकम्प की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 4.5 से अधिक रहती है। सरकार द्वारा भूकम्प उन्मुख सभी क्षेत्रों में राहत एवं बचाव की सारी व्यवस्थाएं की गई हैं। धैर्य रखें, घबराएं नहीं तथा सभी आवश्यक सावधानियां बरतें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय में राज्य आपदा प्रबंधन की बैठक ले रहे थे। बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव डॉ. राजेश राजौरा तथा सभी संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

वाटर लैवल में अंतर है संभावित कारण

गत दिनों प्रदेश में आए भूकंप के संभावित कारणों की समीक्षा में बताया गया कि वाटर लैवल में परिवर्तन इस बार आए भूकंप का संभावित कारण है। इस बार सर्वाधिक 4.3 तीव्रता का भूकंप सिवनी में आया, जिसका एपीसेंटर सिवनी शहर के ठीक नीचे था।

गत दिनों प्रदेश में आए भूकम्प

मध्यप्रदेश में 22 नवम्बर को सिवनी शहर में रिक्टर स्केल पर 4.3 तीव्रता का, कटंगी बालाघाट में 2.4 तीव्रता का, कुरई सिवनी में 1.8 तीव्रता का तथा बरघाट केवलारी में 2.7 तीव्रता का भूकंप आया। इसी प्रकार 07 नवंबर को बड़वानी एवं अलीराजपुर के समीप 4.2 तीव्रता का, सिवनी जिले के पास ही 27 अक्टूबर को 3.3 तीव्रता का भूकंप आया, जिसके झटके मंडला और बालाघाट में भी आए, 31 अक्टूबर को छिंदवाड़ा में 3.2 तीव्रता का तथा सिवनी जिले के पास 3.5 तीव्रता का भूकंप आया।

भूकम्प के समय ये सावधानियां बरतें

  • जहां है वहीं रहें, संतुलित रहें। हड़बड़ी घातक हो सकती है।

  • यदि घर के अन्दर हैं, तो गिर सकने वाली भारी वस्तुओं से दूर रहें।

  • खिड़कियों से दूर रहें। मजबूत मेज के नीचे छुपें।

  • चेहरे व सिर को हाथों की सुरक्षा प्रदान करें व कम्पन रूकने तक सिर को हाथों की सुरक्षा में रखें।

  • अगर घर से बाहर हैं तो खुली जगह तलाशें। भवनों, पेड़ों, बिजली के खम्भों व तारों से दूर रहें।

  • अगर वाहन में हो तो रूकें और अन्दर ही रहें।

  • पुल, बिजली के तारों, भवनों, खाई और तीव्र ढाल वाली चट्टानों से दूर रहें।

  • बिजली के उपकरण व खाना पकाने की गैस बन्द कर दें।

  • टूटे सामान से पैर चोटिल हो सकते है, अत: जूते पहन कर रखें।

  • अगर काई ज्वलनशील पदार्थ फैल गया है, तो तुरन्त उसे साफ करें।

  • यदि आग लग गयी है और धुआं है, तो लेट कर बाहर निकलने का प्रयास करें। ऐसे में साफ हवा जमीन के नजदीक ही मिलेगी।


पाठको की राय
1
आपकी राय
Name
Email
Description