Today Visitor :
Total Visitor :


मध्य प्रदेश: दो मुर्गे बने सरकारी मेहमान, पुलिसकर्मी चुगा रहे दाना, जानें क्या है पूरा मामला      |      Bigg Boss 11 के बाद इस रिएलिटी शो में सलमान खान दिखाएंगे जलवा      |      पीएम मोदी का इजरायली कंपनियों को भारत में निवेश का न्योता      |      करारी हार के बाद प्रेस कॉन्फेंस में फूटा कप्तान कोहली का गुस्सा      |      प्रधानमंत्री मोदी, पीएम नेतन्याहू ने गुजरात में भव्य रोड शो के दौरान जमाया रंग      |      भारतीय हॉकी टीम से मिलने पहुंचे द्रविड़      |      बिग बॉस 11 की ट्रॉफी जीतने के तुरंत बाद शिल्पा शिंदे को मिला ये बड़ा ऑफर      |      अब हरिद्वार से 'हर द्वार' तक पतंजलि प्रोडक्ट्स, आठ ई-कॉमर्स वेबसाइट से हुआ करार      |      हज यात्रा के लिए अब नहीं मिलेगी सब्सिडी      |      MP में साढ़े चार हजार अवैध कालोनियां इसी साल होंगी वैध      |      विश्व कप 2019 के लिए वेस्टइंडीज के सामने 9 टीमों की चुनौती      |      राजधानी दिल्ली के हैदराबाद हाउस में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी औऱ इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के बीच द्विपक्षीय बातचीत हुई.      |      भारत-इजरायल के बीच हुए नौ समझौते      |      डोर-टू-डोर कचरा संग्रहण करने वाला मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य      |      उच्च शिक्षण संस्थानों को राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के प्रयास हो      |      क्रिकेट के मैदान पर ऑस्ट्रेलिया को एक ही दिन में मिली दो करारी हार      |      आलिया भट्ट और रणवीर सिंह की ‘गली बॉय’ की शूटिंग शुरू      |      दोनों देश के पीएम के ट्वीट्स से समझिए, भारत-इजराइल में कितने करीबी रिश्ते हैं      |      ऐसा होगा एयरपोर्ट, 7 मंजिला एटीसी टावर 2750 मीटर का रन-वे, 300 कारों की पार्किंग      |      इजराइल के पीएम के साथ बेबी मोशे भी आया भारत, मुंबई हमले से जुड़ा है जख्‍म      |      चीन के खिलाफ हमारा पलड़ा भारी, अब नहीं हैं 1962 युद्ध जैसे हालात- बिपिन रावत      |      INDvSA दूसरे टेस्ट में फिर से टॉस हारी टीम इंडिया, टीम में 3 बड़े बदलाव      |      इस स्कूल में पढ़ेंगे सैफ-करीना के छोटे नवाब तैमूर अली खान      |      विवाद के बीच आज राहुल गांधी से चुनाव पर चर्चा करेंगे कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया      |      हंगामे के बाद CM को छोड़नी पड़ी सभा, पुलिस को करनी पड़ी हवाई फायरिंग      |      विविध रंग कर्नाटक के      |      माउंट आबू: रेगिस्तान में हिल स्टेशन      |      स्वामी विवेकानंद के 8 अनमोल विचार      |      बेहतर तैयारी के साथ उतरेगी टीम इंडिया      |      सलमान खान ने जरीन खान को फिल्म '1921' के लिए दी शुभकामनाएं      |      

आनंद की बात

भारत के बागों का शहर (गार्डेन सिटी) के नाम से मशहूर बेंगलूर देश की सूचना तकनीकी राजधानी भी है।
आगे पढ़ेंअन्य विविध समाचार
नेपाल की सैर पर निकलें और पोखरा न जाए तो समझिए आपकी यात्रा अधूरी है। यूं तो पूरा नेपाल ही हिमालय की पर्वत श्रृंखलाओं और तराई में बसा है लेकिन पोखरा का नजारा इससे कुछ अलग है। ...
आगे पढ़ें
मध्य प्रदेश के दर्शनीय स्थलों में भीम बैठका महत्वपूर्ण स्थान है। प्रदेश की राजधानी भोपाल से यह स्थान लगभग 55 किमी. दूर है। भीम बैठका अपने शैल चित्रों और शैलाश्रयों के लिए प्रसिद्ध है। इनकी खोज वर्ष 1957-58 में डाक्टर विष्णु श्रीधर वाकणकर द्वारा की गई...
आगे पढ़ें
मैं एक आम नागरिक के तौर पर जंगीपुर वापस आऊंगा: प्रणब मुखर्जीBookmark and Share

 जंगीपुर वो जगह है, जहां से प्रेसिडेंट प्रणब मुखर्जी ने 2004 में पहली बार लोकसभा चुनाव जीता था। शुक्रवार को वे यहां बतौर प्रेसिडेंट आखिरी बार पहुंचे, तो उनकी एक झलक पाने काे लोग बेताब हो उठे। सड़काें और खेतों में लोग मोबाइल फोन से उनकी और उनके काफिले की तस्वीरें ले रहे थे। यहां प्रेसिडेंट ने लोगों से कहा कि अब वो यहां एक आम नागरिक की तरह आएंगे। बता दें कि मुखर्जी का प्रेसिडेंट पोस्ट पर टेन्योर इसी महीने पूरा हो रहा है। केकेएम रूरल फुटबॉल टूर्नामेंट का किया इनॉगरेशन...

 

 यहां मेकेंजी फुटबॉल ग्राउंट पर केकेएम रूरल फुटबॉल टूर्नामेंट का इनॉगरेशन करते वक्त मुखर्जी ने कहा, अब वे यहां प्रेसिडेंट के तौर पर नहीं आएंगे, क्योंकि 10 दिन बाद उनका टर्म पूरा हो रहा है।
- प्रेसिडेंट ने जब कहा कि वो देश के 130 करोड़ नागरिकों में से एक होंगे और एक आम नागरिक की तरह वापस आएंगे, इस पर लोगों ने तालियां बजाईं।
- बता दें कि मुखर्जी ने अपने पिता कमाका किमकर मुखर्जी की याद में केकेएम गोल्ड कप फुटबॉल टूर्नामेंट 2010 में शुरू किया था।
- शुक्रवार को इस टूर्नामेंट में मोहन बागान और ईस्ट बंगाल की अंडर-19 टीम के बीच मुकाबला हुआ। एक्स्ट्रा टाइम तक चले इस मैच में मोहान बगान ने पेनाल्टी शूटआउट से जीत दर्ज की।
 
गर्मी के बावजूद सड़कों पर उमड़ी भीड़
- उमसभरे मौसम के बावजूद बतौर राष्ट्रपति आखिरी बार यहां आए मुखर्जी की एक झलक पाने को लोग बेताब थे।
- मुखर्जी ने भी लोगों को निराश नहीं किया और लगातार हाथ हिलाकर उनका अभिवादन करते रहे, क्योंकि इन्हीं लोगों ने उन्हें 2004, फिर 2009 में लोकसभा चुनाव जिताया था।
- मुखर्जी ने 1969 में बतौर राज्यसभा मेंबर सार्वजनिक जीवन की शुरुआत की थी। इसके बाद वो सरकार के कई अहम पदों पर रहे।
 
भावुक कर देने वाली थी यह यात्रा
- जंगीपुर में उनकी आज की यह यात्रा भावुक कर देने वाली थी। वे यहां अपने बेटे अभिजीत मुखर्जी के बनाए मकान "जंगीपुर हाउस" में लोगों से मिले।
- 2012 में प्रणब मुखर्जी के राष्ट्रपति बनने के बाद यहां से अभिजीत ने लोकसभा चुनाव जीता।
- घर की ओर जाती संकरी सड़कों से जब मुखर्जी का काफिला गुजरा तो धान के खेतों में खड़ी भीड़ में से कई लोगों ने यह पल अपने मोबाइल में कैद कर लिया।
 
'मैंने लिखी है प्रेसिडेंट की बायोग्राफी'
- मुखर्जी का सोनातिगिरी में करीब एक एकड़ में बना बहुत साधारण सा घर है। घर के हॉल में प्रणब मुखर्जी की पत्नी सुव्रा मुखर्जी की बड़ी सी तस्वीर लगी है।
- इस घर में चहल-पहल थी। लोग यहां मुखर्जी से मिलने के लिए उनका इंतजार कर रहे थे।
- मुखर्जी का इंतजार कर रहे सुशील भट्टाचार्य ने कहा, "मैंने प्रेसिडेंट की बायोग्राफी लिखी है। मेरे बड़े भाई उनके साथ पढ़े थे। मैं उन्हें 1970 के दशक से जानता हूं।"
- एक पुराना सा एलबम और मुखर्जी पर उनकी लिखी किताब दिखाते हुए भट्टाचार्य ने अफसोस जताया कि पुलिस उन्हें अंदर नहीं जाने दे रही। हालांकि, कुछ देर बाद उन्हें अंदर जाने की इजाजत दे दी गई।
- मुखर्जी के एक ओर पुराने दोस्त और चार बार कांग्रेस से विधायक रहे समर मुखर्जी भी उन लोगों में थे, जो प्रणब मुखर्जी से मिलने के लिए उनका इंतजार कर रहे थे।
- प्रणब की एक परिचित उनके लिए खीर भी लाई थी, जो उसने अभिजीत का दे दी।
 
बच्चों को बताया- मैं स्कूल से भाग जाता था
- इससे पहले दिन में मुखर्जी ने कनिधिघी में भारती फाउंडेशन की आेर की जाने वाली 10वीं सत्य भारतीय स्कूल दौड़ का इनॉगरेशन किया।
- स्कूलों में प्रेसिडेंट का इंतजार कर रहे स्टूडेंट्स भी उनसे सवाल करने से खुद को रोक नहीं पाए।
- स्टूडेंट्स ने उनसे पूछा- आप कहां पढ़ते थे?, आपको प्रेसिडेंट वाली जिदंगी पसंद है या आम जिंदगी?, क्या आपको हमारा स्कूल पसंद है? प्रेसिडेंट भी मुस्कुराते हुए उनकी सीटों तक गए। उनसे हाथ मिलाया और उनके सवालों के जवाब दिए।
- प्रेसिडेंट ने कहा, "मैं आप लोगों की तरह कभी अच्छा स्टूडेंट नहीं था। आप लोग रोज स्कूल आते हैं, मैं तो अक्सर भाग जाया करता था।"
- उन्होंने स्टूडेंट्स को सलाह दी, "खूब पढ़ो, खूब खेलो और अच्छे नंबर लाओ।"
 
लाेगों को बांटेंगे LPG कनेक्शन

 

- बता दें कि प्रेसिडेंट शनिवार को दिल्ली वापस आएंगे। इससे पहले वे नाबाग्राम में रिटायर्ड इम्प्लॉई की एक रैली को एड्रेस करेंगे और गांव वालों को एलपीजी कनेक्शन डिस्ट्रीब्यूट करेंगे।

पाठको की राय
1
आपकी राय
Name
Email
Description