Today Visitor :
Total Visitor :


सूट-बूट में टीम इंडिया से मिलने पहुंचे आशीष नेहरा के साथ हुआ 'हंसी-मज़ाक'      |      'पद्मावती' के बहाने एक बार फिर निशाने पर है बॉलीवुड, दांव पर लगे हैं 150 करोड़      |      पीएम मोदी बनाम राहुल गांधी: गुजरात दंगल जीतने के लिए बीजेपी ने बनाया है ये मास्टर प्लान      |      पुलिस ने चार्जशीट दाखिल की, इसी महीने सुनाई जा सकती है सजा      |      म्यांमार सैनिकों ने असंख्य रोहिंग्या महिलाओं-लड़कियों से किया गैंग रेप: रिपोर्ट      |      नवाचारी विचार को मूर्तरूप देने बनेगा 50 करोड़ रूपये का फंड : मुख्यमंत्री       |      पद्मावती रिलीज हुई तो दीपिका की नाक काट लेंगे: करणी सेना की धमकी      |      पुलिस ने कोर्ट में पेश किया चालान,आरोपियों की पैरवी करने को तैयार नहीं वकील      |      यूपी में 'पद्मावती' की रिलीज़ मुश्किल, योगी सरकार ने सुरक्षा पर हाथ खड़े किए      |      वजन के सवाल पर रिपोर्टर को विद्या का करारा जवाब, 'अपना नजरिया बदलो'      |      भारत के प्लेइंग इलेवन में नहीं मिली जगह तो इस टीम से खेलने जा रहे हैं इशांत शर्मा      |      मोदी ने दिया सभी आसियान देशों को संदेश, 'आतंक के खिलाफ मिल कर छेड़ें जंग'      |      महिला आयोग सख्त, कहा डॉक्टरों से हुई बड़ी चूक रजिस्ट्रेशन निरस्त करें      |      एक टीम के साथ तीन महीने में दो बार सीरीज़ फैंस के लिए ओवरडोज़: विराट कोहली      |      दुश्मन बने दोस्त: करण जौहर ने काजोल को बताया जिंदगी का अहम हिस्सा      |      मथुरा निकाय चुनाव: स्टार प्रचारकों के भरोसे बीजेपी, हेमा मालिनी का साथ देंगे सीएम योगी      |      श्रीदेवी को ‘रीटेक’ में नहीं है यकीन      |      पार्टी में शॉर्ट ड्रेस में पहुंचीं एकता कपूर, शाहिद की बीवी-बेटी समेत ये भी दिखे      |      योगी ने अयोध्या से किया चुनावी अभियान का आगाज,       |      अनुष्का के साथ विराट के रिश्ते को और गहरा करती है ये नई प्रोफाइल पिक      |      श्रीदेवी को ‘रीटेक’ में नहीं है यकीन      |      भोपाल: गैंगरेप को झूठा बताने की कोशिश हुई, यह सीरियस क्राइम: महिला आयोग      |      मोदी जेंटलमैन और हमारे दोस्त, वो बेहतरीन काम कर रहे हैं      |      डिविलियर्स का धमाका, 19 गेंद में बनाए 50 रन      |      सुनील ग्रोवर के साथ झगड़े पर खुलकर बोले कपिल शर्मा      |      पीएम मोदी ने ट्रंप को दिया भारत आने का न्योता      |      आवासीय भू-खण्ड विहीन लोगों के लिये भू-अधिकार अभियान चलाया जाएगा      |      आदिगुरु शंकराचार्य को भारत को सांस्कृतिक रूप से एक बनाये रखने का श्रेय - मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      आलोचनाओं के बीच खास जवाब के साथ सामने आए धोनी      |      ऋषि कपूर ने कहा, जम्मू कश्मीर हमारा और पाकिस्तान के नियंत्रण वाला कश्मीर उनका है      |      

आनंद की बात

हर तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट ना बाजारों के साथ-साथ ऑनलाइन भी मौजूद हैं. नए-नए ब्यूटी ट्रेंड्स में आजकल पॉपुलर हो रहा है बालों का परफ्यूम यानि हेयर मिस्ट. क्या आप ज
आगे पढ़ेंअन्य विविध समाचार
स्मार्टफोन Mi Max 2 की कीमत में कटौती की है. इस साल जुलाई में लॉन्च हुए इस स्मार्टफोन को कस्टमर अब 13,999 रुपये में ही खरीद सकते हैं. शाओमी के वाइस प्रेसिडेंट मनु जैन ने ट्विट करके इसकी जानकारी दी है. मुन जैन ने ट्विट किया है कि '#MiMax2 की कीमत ...
आगे पढ़ें
दक्षिण कोरियाई कंपनी सैमसंग अपना नया मिड-रेंज स्मार्टफोन गैलेक्सी A7 (2018) जल्द लॉन्च कर सकती है. इससे पहले अब इस स्मार्टफोन को गीकबेंच वेबसाइट पर स्पॉट किया गया है जिसमें सामने आया है कि आने वाले गैलैक्सी A7 (2018) में 6 जीबी रैम दी होगी. वहीं इसके...
आगे पढ़ें
मैं एक आम नागरिक के तौर पर जंगीपुर वापस आऊंगा: प्रणब मुखर्जीBookmark and Share

 जंगीपुर वो जगह है, जहां से प्रेसिडेंट प्रणब मुखर्जी ने 2004 में पहली बार लोकसभा चुनाव जीता था। शुक्रवार को वे यहां बतौर प्रेसिडेंट आखिरी बार पहुंचे, तो उनकी एक झलक पाने काे लोग बेताब हो उठे। सड़काें और खेतों में लोग मोबाइल फोन से उनकी और उनके काफिले की तस्वीरें ले रहे थे। यहां प्रेसिडेंट ने लोगों से कहा कि अब वो यहां एक आम नागरिक की तरह आएंगे। बता दें कि मुखर्जी का प्रेसिडेंट पोस्ट पर टेन्योर इसी महीने पूरा हो रहा है। केकेएम रूरल फुटबॉल टूर्नामेंट का किया इनॉगरेशन...

 

 यहां मेकेंजी फुटबॉल ग्राउंट पर केकेएम रूरल फुटबॉल टूर्नामेंट का इनॉगरेशन करते वक्त मुखर्जी ने कहा, अब वे यहां प्रेसिडेंट के तौर पर नहीं आएंगे, क्योंकि 10 दिन बाद उनका टर्म पूरा हो रहा है।
- प्रेसिडेंट ने जब कहा कि वो देश के 130 करोड़ नागरिकों में से एक होंगे और एक आम नागरिक की तरह वापस आएंगे, इस पर लोगों ने तालियां बजाईं।
- बता दें कि मुखर्जी ने अपने पिता कमाका किमकर मुखर्जी की याद में केकेएम गोल्ड कप फुटबॉल टूर्नामेंट 2010 में शुरू किया था।
- शुक्रवार को इस टूर्नामेंट में मोहन बागान और ईस्ट बंगाल की अंडर-19 टीम के बीच मुकाबला हुआ। एक्स्ट्रा टाइम तक चले इस मैच में मोहान बगान ने पेनाल्टी शूटआउट से जीत दर्ज की।
 
गर्मी के बावजूद सड़कों पर उमड़ी भीड़
- उमसभरे मौसम के बावजूद बतौर राष्ट्रपति आखिरी बार यहां आए मुखर्जी की एक झलक पाने को लोग बेताब थे।
- मुखर्जी ने भी लोगों को निराश नहीं किया और लगातार हाथ हिलाकर उनका अभिवादन करते रहे, क्योंकि इन्हीं लोगों ने उन्हें 2004, फिर 2009 में लोकसभा चुनाव जिताया था।
- मुखर्जी ने 1969 में बतौर राज्यसभा मेंबर सार्वजनिक जीवन की शुरुआत की थी। इसके बाद वो सरकार के कई अहम पदों पर रहे।
 
भावुक कर देने वाली थी यह यात्रा
- जंगीपुर में उनकी आज की यह यात्रा भावुक कर देने वाली थी। वे यहां अपने बेटे अभिजीत मुखर्जी के बनाए मकान "जंगीपुर हाउस" में लोगों से मिले।
- 2012 में प्रणब मुखर्जी के राष्ट्रपति बनने के बाद यहां से अभिजीत ने लोकसभा चुनाव जीता।
- घर की ओर जाती संकरी सड़कों से जब मुखर्जी का काफिला गुजरा तो धान के खेतों में खड़ी भीड़ में से कई लोगों ने यह पल अपने मोबाइल में कैद कर लिया।
 
'मैंने लिखी है प्रेसिडेंट की बायोग्राफी'
- मुखर्जी का सोनातिगिरी में करीब एक एकड़ में बना बहुत साधारण सा घर है। घर के हॉल में प्रणब मुखर्जी की पत्नी सुव्रा मुखर्जी की बड़ी सी तस्वीर लगी है।
- इस घर में चहल-पहल थी। लोग यहां मुखर्जी से मिलने के लिए उनका इंतजार कर रहे थे।
- मुखर्जी का इंतजार कर रहे सुशील भट्टाचार्य ने कहा, "मैंने प्रेसिडेंट की बायोग्राफी लिखी है। मेरे बड़े भाई उनके साथ पढ़े थे। मैं उन्हें 1970 के दशक से जानता हूं।"
- एक पुराना सा एलबम और मुखर्जी पर उनकी लिखी किताब दिखाते हुए भट्टाचार्य ने अफसोस जताया कि पुलिस उन्हें अंदर नहीं जाने दे रही। हालांकि, कुछ देर बाद उन्हें अंदर जाने की इजाजत दे दी गई।
- मुखर्जी के एक ओर पुराने दोस्त और चार बार कांग्रेस से विधायक रहे समर मुखर्जी भी उन लोगों में थे, जो प्रणब मुखर्जी से मिलने के लिए उनका इंतजार कर रहे थे।
- प्रणब की एक परिचित उनके लिए खीर भी लाई थी, जो उसने अभिजीत का दे दी।
 
बच्चों को बताया- मैं स्कूल से भाग जाता था
- इससे पहले दिन में मुखर्जी ने कनिधिघी में भारती फाउंडेशन की आेर की जाने वाली 10वीं सत्य भारतीय स्कूल दौड़ का इनॉगरेशन किया।
- स्कूलों में प्रेसिडेंट का इंतजार कर रहे स्टूडेंट्स भी उनसे सवाल करने से खुद को रोक नहीं पाए।
- स्टूडेंट्स ने उनसे पूछा- आप कहां पढ़ते थे?, आपको प्रेसिडेंट वाली जिदंगी पसंद है या आम जिंदगी?, क्या आपको हमारा स्कूल पसंद है? प्रेसिडेंट भी मुस्कुराते हुए उनकी सीटों तक गए। उनसे हाथ मिलाया और उनके सवालों के जवाब दिए।
- प्रेसिडेंट ने कहा, "मैं आप लोगों की तरह कभी अच्छा स्टूडेंट नहीं था। आप लोग रोज स्कूल आते हैं, मैं तो अक्सर भाग जाया करता था।"
- उन्होंने स्टूडेंट्स को सलाह दी, "खूब पढ़ो, खूब खेलो और अच्छे नंबर लाओ।"
 
लाेगों को बांटेंगे LPG कनेक्शन

 

- बता दें कि प्रेसिडेंट शनिवार को दिल्ली वापस आएंगे। इससे पहले वे नाबाग्राम में रिटायर्ड इम्प्लॉई की एक रैली को एड्रेस करेंगे और गांव वालों को एलपीजी कनेक्शन डिस्ट्रीब्यूट करेंगे।

पाठको की राय
1
आपकी राय
Name
Email
Description