Today Visitor :
Total Visitor :


आयुष्मान भारत एक नयी क्रांति- मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रेमपुरा घाट पर किया भगवान श्रीगणेश प्रतिमा का विसर्जन      |      पर्रिकर बने रहेंगे मुख्यमंत्री, कैबिनेट में बदलाव का ऐलान जल्द: अमित शाह      |      लगता है ओलांद का बयान राहुल को पहले से पता था, इसमें कुछ जुगलबंदी है: जेटली      |      पाक फैन ने गाया भारतीय राष्ट्रगान, कहा- शांति की ओर एक प्रयास      |      शूटिंग छोड़ मुम्बई पहुंचे रनबीर, आरके स्टूडियो की आखिरी गणेश पूजा में हुए शामिल      |      सिंधू और श्रीकांत की हार के साथ भारतीय चुनौती समाप्त      |      सिंपल या हैवी, चूज करें परफैक्ट नथ       |      छत्तीसगढ़ में शाह का दावा, तीनों राज्यों में बनेगी भाजपा सरकार      |      राफेल पर सरकार के झूठ का पर्दाफाश : कांग्रेस      |      जुन्नारदेव, परासिया में चालू की जायेंगी 6 नई खदानें : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      ऐसे 2 भारतीय गेंदबाज जिन्होंने ODI में अपनी पहली ही गेंद पर लिया विकेट      |      किम से कम नहीं अनूप की गर्लफ्रैंड जसलीन      |       जेट एयरवेज मामला: 5 यात्रियों को सुनाई देने में दिक्कत      |      ओडिशा में उवर्रक संयंत्र, हवाई अड्डे का उद्घाटन करेंगे PM      |      धान के समर्थन मूल्य पर इस वर्ष भी दिया जायेगा बोनस : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने श्रीलंका को 13 रनों से हरा दिया      |      शॉर्ट ड्रैसिज पहनने की शौकीन है तो आलिया से लीजिए Ideas      |      राहुल गांधी का पीएम मोदी पर हमला      |      जरूरतमंदों को समय पर मिले सरकारी योजनाओं का लाभ : राज्यपाल      |      मध्यप्रदेश की धरती पर कानून का दुरुपयोग नहीं होने देंगे : श्री चौहान      |      अर्जुन पुरस्कार के लिए भेजा गया हिमा दास का नाम      |      वरुण और अनुष्का ने ‘सुई धागा’ के लिए कपड़ा कारखाने में किया था काम      |      RSS प्रमुख, किसी पार्टी के लिए काम नहीं करते स्वयंसेवक      |      राष्ट्रीय महिला आयोग अध्यक्ष श्रीमती शर्मा ने सखी-संगिनी को किया सम्मानित      |      मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विदिशा में किया अटल बिहारी वाजपेयी मेडिकल कॉलेज का लोकार्पण      |      गौतम ने कहा, मैं कभी किसी की सिफारिश से मुंबई नहीं पहुंची      |      रोहित ने माना- हमारा मध्यक्रम कमजोर      |      भोपाल में विरोधियों पर गरजे राहुल      |      कर्तव्यों का निर्वहन सिखाते हैं विश्वविद्यालय : राज्यपाल श्रीमती पटेल      |      

आनंद की बात

गणेश चतुर्थी आने वाली है। गणेश चतुर्थी पर मीठा बनाने की सोच रही हैं तो इस बार आप बप्पा को भोग लगाने के लिए गुड़ और नारियल से घर में ही मोदक तैयार कर सकती हैं। य
आगे पढ़ेंअन्य विविध समाचार
अगर कुछ ऐसा है, जिसके बिना भारतीय लड़कियों का मेकअप कंपलीट नहीं होता तो वह है काजल। इसके बिना लड़कियों का अपना मेकअप अधूरा लगता है। काजल आंखों की खूबसूरती तो बढ़ाने के साथ उसे अट्रैक्टिव भी दिखाता है। ऐसा में भला कोई लड़की काजल अप्लाई क्यों न करें ले ...
आगे पढ़ें
अंजीर मल्‍बेरी फैमिली का एक लोकप्रिय मौसमी फल है। अंजीर में बहुत से गुण पाए जाते हैं । भारत में इसे सूखे और ताजे दोनों तरह इस्तेमाल किया जाता है। अंजीर बैंगनी, हरे और अन्य कई रंगों में पाया जाता है।...
आगे पढ़ें
पीएम मोदी ने की नीति आयोग के साथ बैठकः बजट से पहले कई मुद्दों पर लिए अहम फैसलेBookmark and Share

 बजट 2018-19 पेश होने से ठीक 21 दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज नीति आयोग, अर्थशास्त्रियों और वित्त मंत्रालय के अधिकारियों के साथ अहम बैठक की, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश भर के प्रमुख अर्थशास्त्रियों और अर्थ क्षेत्र के विशेषज्ञों के साथ बैठक में आने वाले बजट सहित इकोनॉमी के कई प्रमुख मोर्चों पर चर्चा की.

इस बैठक में वित्त मंत्री अरुण जेटली, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, परिवहन और गंगा संरक्षण मंत्री नितिन गडकरी, कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह, योजना राज्य मंत्री इंद्रजीत सिंह के साथ नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार और दूसरे सदस्यों ने हिस्सा लिया. इसके अलावा सरकार के दूसरे वरिष्ठ अधिकारी भी बैठक में मौजूद थे. इस बैठक में आर्थिक विकास दर को गति देने और रोजगार बढ़ाने के उपायों पर विस्तार से चर्चा की गई.

 

इस बैठक में भारत की इकोनॉमिक पॉलिसी पर चर्चा करते हुए मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यणम ने कहा कि भारत के विकास में सुधार देखा जा रहा है जो पॉजिटिव संकेत है.

 

विशेषज्ञों के साथ बैठक में सूत्रों के मुताबिक पीएम मोदी ने कहा है कि केंद्र सरकार निर्भीकता के साथ फैसले लेने में सक्षम है और सरकार साहसिक फैसले लेने से नहीं हिचकेगी. दीर्घकालिक हित के फैसले लेने के लिए ये सरकार तैयार है. अपने विशालकाय देश में कई अंतर्विरोध और इसी के बीच आगे बढ़ते हुए विकास करना है. एक तरफ राजकोषीय घाटा कम रखना है तो दूसरी तरफ नई कल्याणकारी योजनाएं भी चलानी होती है. संतुलन कायम रखते हुए विकास के पथ पर आगे बढ़ना सरकार की प्राथमिकता है.


पाठको की राय
1
आपकी राय
Name
Email
Description