Today Visitor :
Total Visitor :


हार्दिक बोले, कई लोगों ने मप्र में आने पर केस लगाने की धमकी दी      |      कनाडा में सिख कट्टरपंथियों का मुद्दा उठा सकता है भारत      |      पीएनबी घोटाले पर बोले राहुल गांधी: कहां हैं 'न खाऊंगा, न खाने दूंगा' कहने वाला देश का चौकीदार      |      ‘दंगल’ के लिए कटवाए थे बाल, अब ‘ठग्स ऑफ हिंदोस्तान’ में इस लुक में नजर आएंगी फातिमा सना शेख      |      धोनी ने संभाली कमान और एक ओवर में बदल गया पूरा खेल      |      साउथ अफ्रीका ने टॉस जीतकर लिया गेंदबाजी का फैसला      |      विवेक दहिया ने समाज में बदलाव की पहल      |      बीजेपी के नए दफ्तर का उद्घाटन      |      त्रिपुरा विधानसभा चुनाव में 74 फीसदी मतदान हुआ      |      ओला-वृष्टि से प्रभावित क्षेत्रों में व्यापक पैमाने पर राहत कार्य शुरू किये जायेंगे      |      आखिरी वनडे में 8 विकेट से जीत दर्ज की टीम इंडिया ने       |      सिनेमाघरों में धीमी पड़ी अक्षय की 'पैडमैन'      |      PNB घोटाला: बीजेपी ने किया कांग्रेस पर हमला      |      भारत-ईरान के बीच नौ क्षेत्रों में हुए समझौते      |      कांग्रेस की स्टीयरिंग कमेटी की बैठक      |      आखिरी वनडे मुकाबले में भारत को मिला 205 रनों का लक्ष्य      |      पिता को सम्मान पाता देख भीगीं थी दीपिका की पलकें, बोलीं- 'रोने में कोई शर्मिंदगी वाली बात नहीं'      |      पब्लिक ट्रांसपोर्ट फ्री करने की तैयारी में जर्मनी, अब बिना टिकट होगा बस-मेट्रो का सफर      |      राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद होंगे गोवा यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह के मुख्य अतिथि      |      शिवराज सरकार को SC की फटकार- रेप पीड़िताओं को सिर्फ 6500 रुपये मुआवजा?      |      अच्छे प्रदर्शन के बावजूद मुझे टीम से बाहर कर दिया गया: सुरेश रैना      |      एक अच्छी अभिनेत्री के तौर पर पहचानी जाऊं: प्रिया प्रकाश वारियर      |      चीन ने पीएम मोदी के अरुणाचल दौरे का ‘कड़ा विरोध’ किया      |      अमित शाह ने किया बीजेपी के मिशन-2019 का आगाज      |      महाविद्यालयों में छात्राओं का स्वास्थ्य परीक्षण भी कराया जाये : राज्यपाल श्रीमती पटेल      |      फॉर्म में लौटे रोहित ने वेलेंटाइन डे पर पत्नी को दिया खास तोहफा      |      शिल्पा शिंदे को फैंस से मिला ऐसा प्यार, इमोशनल होकर लगीं रोने      |      बीजेपी को मिलेगा भरपूर समर्थन, त्रिपुरा में खिलेगा कमल: योगी आदित्यनाथ      |      दिन का तापमान चार डिग्री लुढ़का, कोहरे के कारण ट्रैफिक हुआ डायवर्ट      |      लड़कियों के बीयर पीने से जुड़ी मेरी टिप्पणी को तोड़ मरोड़कर पेश किया गया      |      

आनंद की बात

भारत के बागों का शहर (गार्डेन सिटी) के नाम से मशहूर बेंगलूर देश की सूचना तकनीकी राजधानी भी है।
आगे पढ़ेंअन्य विविध समाचार
नेपाल की सैर पर निकलें और पोखरा न जाए तो समझिए आपकी यात्रा अधूरी है। यूं तो पूरा नेपाल ही हिमालय की पर्वत श्रृंखलाओं और तराई में बसा है लेकिन पोखरा का नजारा इससे कुछ अलग है। ...
आगे पढ़ें
मध्य प्रदेश के दर्शनीय स्थलों में भीम बैठका महत्वपूर्ण स्थान है। प्रदेश की राजधानी भोपाल से यह स्थान लगभग 55 किमी. दूर है। भीम बैठका अपने शैल चित्रों और शैलाश्रयों के लिए प्रसिद्ध है। इनकी खोज वर्ष 1957-58 में डाक्टर विष्णु श्रीधर वाकणकर द्वारा की गई...
आगे पढ़ें
विकलांग कल्याण में मध्यप्रदेश अग्रणी राज्य : मुख्यमंत्री श्री चौहानBookmark and Share

 मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि समाज और सरकार मिलकर समावेशी विकास की अवधारणा को प्रभावी तरीके लागू कर सकते हैं। श्री चौहान ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय दर्शन का उल्लेख करते हुए कहा कि समाज के अंतिम व्यक्ति तक विकास का लाभ पहुंचाना सरकार का प्राथमिक उद्देश्य है। मुख्यमंत्री आज यहाँ आर.सी.व्ही.पी. नरोन्हा प्रशासन एवं प्रबंधकीय अकादमी में बौद्धिक एवं विकासात्मक दिव्यांगजनों के लिए 'समावेशी भारत' विषय पर आयोजित कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे।

श्री चौहान ने मध्यप्रदेश में  दिव्यांगजन कल्याण  के लिये किए जा रहे हैं  कार्यों और योजनाओं  की चर्चा करते हुए कहा कि सरकार ने दिव्यांगजनों के लिए  नवाचारी योजनाएं  बनाई  हैं  ताकि वे अपनी प्रतिभा और क्षमता का  पूरा उपयोग कर पूरी गरिमा के साथ विकास में भागीदार बन सकें। मुख्यमंत्री ने कहा कि शारीरिक अपंगता स्थाई बाधा नहीं है। दिव्यांग  बंधुओं  में क्षमता , ऊर्जा और प्रतिभा की कमी नहीं है । समाज और सरकार के थोड़े से सहयोग से वे जीवन में  चमत्कार  कर सकते हैं और समाज को अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दे सकते हैं । उन्होने कहा कि दिव्यांग बंधुओं  के संपूर्ण विकास के लिए सरकार ऐसे  वातावरण  का  निर्माण कर रही है जिसमें  वे अपनी प्रतिभा और क्षमता का उपयोग समाज के लिए कर पाएं।

मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार द्वारा दिव्यांग बंधुओं के लिए अनूठी योजनाएं संचालित करने  पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में विकलांग बंधुओं को इन योजनाओं का  पूरा लाभ  दिलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश विकलांग कल्याण के क्षेत्र में देश का अग्रणी राज्य  है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश में बहु विकलांग व्यक्तियों के लिए पांच सौ रूपये प्रति माह की पेंशन व्यवस्था शुरू की गई है। वर्तमान में करीब चार लाख दिव्यांग बंधुओं को यह सुविधा मिल रही है। विकलांग बंधुओं के विवाह पर अब पचास हजार के स्थान पर दो लाख रूपए दिए जा रहे हैं। श्री चौहान ने कहा कि इस कार्यशाला में दिव्यांगों के कल्याण के संबंध में विशेषज्ञों और समाज सेवियों द्वारा दिये गये सुझावों पर सरकार प्रभावी रूप से कार्रवाई करेगी। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर दिव्यांग बालक बालिकाओं को प्रमाण पत्र दिए।


पाठको की राय
1
आपकी राय
Name
Email
Description