Put your alternate content here
Today Visitor :
Total Visitor :


कोरोना संकट के कारण अद्वैतवाद का पुनर्जागरण हो रहा है: राज्यपाल      |      सौरव गांगुली ने IPL के आयोजन पर चल रही खबरों पर लगाया विराम      |      सोनू सूद ने 1000 से अधिक यूपी-बिहार के प्रवासी मजूदरों को भेजा घर      |      महाराष्ट्र और गुजरात में आने वाला है चक्रवात निसर्ग      |      कंटेनमेंट मुक्त हुआ राजभवन      |      एलोपैथी न हौम्योपैथी सबसे कारगर सिम्पैथी : मंत्री डॉ. मिश्रा      |      हार्दिक पांड्या शादी से पहले बनने जा रहे हैं पिता      |      जी-7 की जगह जी-11      |      दुर्लभ संकटापन्न प्रजातियों के एक करोड़ पौधे तैयार      |      पाँचवें चरण का लॉकडाउन, अनलॉक 1.0 का चरण होगा      |      कोरोना संकट के बीच टी20 वर्ल्ड कप रद्द करना बेहतर विकल्प: संगकारा      |      चीन के विरोध में एक्टर मिलिंद सोमन का ऐलान      |      मोदी नाम नहीं, मंत्र है जो ऊर्जा भरता है : मुख्यमंत्री श्री चौहान      |      वरिष्ठ चिकित्सक रोज वार्डों में जाएं, मरीजों को सर्वोत्तम इलाज दें      |      जानवरों से मनुष्यों में कैसे पहुंचा कोरोना वायरस      |      कई क्लासिक फ़िल्मों के गीतकार योगेश का निधन      |      छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का निधन      |      पीएम मोदी से मिले शाह      |      बिलिंग, राजस्व संग्रहण एवं विद्युत आपूर्ति प्रभावी ढंग से करें      |      भोपाल में खेल गतिविधियां प्रारंभ करने के लिए खेल विभाग ने तैयार की गाइड लाइन       |      आईसीसी ने टी-20 वर्ल्ड कप के भविष्य को लेकर होने वाला फैसला 10 जून के लिए टाल दिया      |      महिला ने सोनू सूद से लगाई पार्लर पहुंचाने की गुहार      |      "रोजगार सेतु" योजना के अंतर्गत सर्वेक्षण प्रारंभ      |      जनकल्याण के लिए आयुर्वेदिक ज्ञान का वैज्ञानिक विश्लेषण आवश्यक: राज्यपाल श्री टंडन      |      भारत में टिड्डियों के दल ने हमला किया      |      बुमराह एक प्रतिभाशाली खिलाड़ी      |      अमिताभ बच्चन बांट रहे हैं फूड पैकेट      |      ग्रामीणों और केन्द्रीय टिड्डी नियंत्रण दल के अधिकारियों से सतत् सम्पर्क करें      |      नई दृष्टि और नई दिशा के साथ हो गौ-संरक्षण: श्री टंडन      |       वेस्टइंडीज की टेस्ट टीम ने ट्रेनिंग की शुरूआत कर दी       |      

आनंद की बात

दुनिया में अब तक 211597 लोगों की जान ले चुका है। अभी तक जितने शोध सामने आए हैं उनमें ये बात सामने आ चुकी है कि कुछ मरीजों में इस वायरस के शुरुआती लक्षण दिखाई नह
आगे पढ़ेंअन्य विविध समाचार
चीनी कंपनी iQOO भारतीय बाजार में 5G स्मार्टफोन के साथ उतर रही है। देश में 5G फोन के साथ कदम रखने वाली ये पहली कंपनी भी है। ...
आगे पढ़ें
कोरोनो वायरस महामारी ने दुनिया के लगभग सभी हिस्सों में चिंता और दहशत पैदा कर दी है, लेकिन बुज़ुर्गों, मधुमेह और हृदय की समस्याओं, धूम्रपान करने वाले लोगों और गर्भवती महिलाओं को COVID-19 के लिए उच्च जोखिम वाली श्रेणी में रखा गया है।...
आगे पढ़ें
मध्य प्रदेश

राज्यपाल श्री लालजी टंडन ने कहा है कि कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न संकट का समय चिंतन और नवाचार का है। सारा देश एकजुट होकर एकात्म भाव से इस संकट का आज समाधान ढूंढ रहा है। एक दूसरे का सहयोग कर रहा है। इस भाव को देख कर लगता है कि देश में अद्वैतवाद का पुनर्जागरण हो रहा है। यह बात राज्यपाल श्री टंडन ने पंडित शंभुनाथ शुक्ल विश्वविद्यालय शहडोल के तृतीय स्थापना दिवस पर आयोजित वेबीनार के शुभारंभ अवसर पर आज कही।

राज्यपाल श्री टंडन ने कहा कि कोरोना संकट के दुष्प्रभाव से निपटने के लिए प्रधानमंत्री ने अपने उद्बोधन के माध्यम से देशवासियों को सलाह दी। लॉक डाउन के कारण उत्पन्न परिस्थितियों का सामना करने का हौसला बढ़ाया, वह सराहनीय है। उन्होंने कहा कि लॉक डॉउन के दौरान जो प्रतिबंध लगे थे अब वे धीरे-धीरे हट रहे हैं, लेकिन अभी कोरोना वायरस का खतरा टला नहीं है। हमें सावधानियां बरतनी होगी। धीरे-धीरे हम इस संकट से निजात पा लेंगे। आवश्यकता आत्मनुशासन बनाए रखने की है। संयम और धैर्य से काम लेना है। उन्होंने कहा कि इस संकटकाल के बाद नई संस्कृति का जन्म होने वाला है। हमारी जिम्मेदारी बनती है कि हम अपनी क्षमता और योग्यता के साथ स्व-प्रेरित होकर भारत के विकास को नई दिशा देने के लिये कार्य करें।

उन्होंने देश की बेटियों, छात्रों और नागरिकों की प्रशंसा करते हुए कहा कि इन लोगों ने जिस तेजी के साथ कोरोना का सामना करने के लिए मास्क और अन्य आवश्यक उत्पादों का निर्माण कर आत्मनिर्भरता की दिशा में हमारा विश्वास ओर अधिक बढाया है। उन्होंने कहा कि हमारा इतिहास गवाह है कि विषम परिस्थितियों में भी हम अपने आत्मसम्मान और संस्कृति की रक्षा करते रहे हैं। देशवासियों ने आत्मानुशासन, विशेषज्ञों की राय और प्रधानमंत्री की सलाह का पालन करके विश्व के सामने एक उदाहरण प्रस्तुत किया है, क्योंकि इतनी बड़ी आबादी के बीच संक्रमण को रोकने का एकमात्र तरीका घर में रहकर अपना बचाव करना था, जिसका पालन लोगों ने एकजुट होकर किया।

वेबीनार में रीवा, चित्रकूट और शिमला विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति श्री ए.डी.एन वाजपेयी ने स्वदेशी आत्मनिर्भरता और राष्ट्रवाद विषय पर अपनी अवधारणा प्रस्तुत करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण के कारण उत्पन्न संकट के समय में हमें प्रधानमंत्री की देशवासियों से आत्मनिर्भरता की अपील पर अपनी योजनाओं का क्रियान्वयन करना होगा। इसके लिए स्वदेशी आचरण अपनाकर हमें क्षेत्रगत विशेषताओं को ध्यान में रखकर अपने उत्पादन का निर्माण करना होगा। अपने उत्पाद को देश के साथ-साथ अन्य देशों तक पहुंचाना होगा, जिससे देश आर्थिक आत्मनिर्भरता और सम्पन्नता की ओर बढ़े।

पंडित एस.एन शुक्ल विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफ़ेसर मुकेश तिवारी ने स्वागत वक्तव्य मेंबताया कि पांच दिवसीय इस आयोजन में कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए मेडिटेशन, हाइजीन एवं पब्लिक हेल्थ, शासकीय योजनाएं एवं मीडिया से चर्चा के साथ-साथ कोरोना वारियर्स का सम्मान किया जाएगा।

आयोजन की संयोजिका डॉ मनीषा तिवारी ने बताया कि पांच दिवसीय आयोजन से विश्वविद्यालय के सभी विद्यार्थी जुड़ेंगे तथा इससे लाभान्वित होंगे। विश्वविद्यालय के प्राध्यापक डॉ करुणेश झा ने आभार व्यक्त किया।

अन्य सुर्खिया
- कोरोना संकट के कारण अद्वैतवाद का पुनर्जागरण हो रहा है: राज्यपाल 01-Jun-20
- एलोपैथी न हौम्योपैथी सबसे कारगर सिम्पैथी : मंत्री डॉ. मिश्रा 01-Jun-20
- पाँचवें चरण का लॉकडाउन, अनलॉक 1.0 का चरण होगा 31-May-20
- वरिष्ठ चिकित्सक रोज वार्डों में जाएं, मरीजों को सर्वोत्तम इलाज दें 30-May-20
- भोपाल में खेल गतिविधियां प्रारंभ करने के लिए खेल विभाग ने तैयार की गाइड लाइन 29-May-20
- जनकल्याण के लिए आयुर्वेदिक ज्ञान का वैज्ञानिक विश्लेषण आवश्यक: राज्यपाल श्री टंडन 28-May-20
- नई दृष्टि और नई दिशा के साथ हो गौ-संरक्षण: श्री टंडन 27-May-20
- उच्च शिक्षा की सभी कक्षाओं एवं पाठ्यक्रमों की परीक्षाएँ होंगी 25-May-20
- गृह मंत्री को अपने बीच पाकर प्रसन्न हुए पुलिसकर्मी 24-May-20
- प्रदेश में कृषि उत्पादक समूहों को बढ़ावा दिया जाए 23-May-20
- कोरोना संक्रमण रोकना पहली प्राथमिकता 22-May-20
- प्रधानमंत्री की आत्मनिर्भर भारत योजना को प्रदेश में लागू करें 21-May-20
- लॉकडाउन-4 के नियमों का पूरा पालन किया जाए 19-May-20
- संक्रमित क्षेत्रों में रखी जाए विशेष सावधानी एवं सख्ती 18-May-20
- मंत्री डॉ. मिश्रा ने दतिया में राहत सामग्री और मास्क वितरित किये 17-May-20
1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 ...